कोलकाता हिंसा पर बोले अमित शाह, CRPF नहीं होती तो जिंदा नहीं बच पाता

बुधवार, 15 मई 2019 (11:31 IST)
भाजपा राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह ने बुधवार को भाजपा मुख्यालय में प्रेस कॉन्फ्रेंस कर कहा कि यदि सीआरपीएफ नहीं होती तो मेरा बचना मुश्किल था। मैं सौभाग्य से ही बचकर आया हूं। उन्होंने कहा कि रोड शो के दौरान हुई हिंसा की जांच के लिए एसआईटी का गठन होना चाहिए। अमित शाह की पीसी की 5 खास बातें...   
 
- अमित शाह ने कहा कि अब तक चुनाव के 6 चरण समाप्त हो चुके हैं, इन 6 के 6 चरणों में सिवाय पश्चिम बंगाल के कहीं भी हिंसा नहीं हुई। 
- भाजपा अध्यक्ष ने कहा कि टीएमसी और ममता बनर्जी हार के डर से राज्य में हिंसा करवा रही हैं। मैं ममता जी को बताना चाहता हूं कि आप सिर्फ 42 सीटों पर चुनाव लड़ रही हैं और भाजपा देश के सभी राज्यों में चुनाव लड़ रही है। 
- अमित शाह ने कहा कि विद्यासागर की मूर्ति को अंदर से तोड़ा गया। इसे भाजपा कार्यकर्ताओं ने नहीं तृणमूल कांग्रेस के गुंडों ने तोड़ा।
- उन्होंने कहा कि रोड शो से पहले ही वहां लगे पोस्टर फाड़ दिए गए। रोड शो शुरू हुआ, जिसमें अभूतपूर्व जनसैलाब उमड़ा, 2.30 घंटे तक शांतिपूर्ण तरीके से रोड शो चला। भाजपा कार्यकर्ताओं पर 3 बार हमले किए गए और तीसरे हमले में तोड़फोड़, आगजनी और बोतल में केरोसिन डालकर हमला किया गया। 
- ममता की धमकी पर चुनाव आयोग ने कोई एक्टर क्यों नहीं लिया। ममता बनर्जी के प्रचार पर रोक क्यों नहीं लगी।

वेबदुनिया पर पढ़ें

अगला लेख पेट्रोल-डीजल में थमी गिरावट, जानें 4 महानगरों में भाव