गुना-शिवपुरी से हो सकती है 'महारानी' की सियासी एंट्री, ज्योतिरादित्य ग्वालियर सीट से लड़ सकते हैं लोकसभा चुनाव

भोपाल। मध्यप्रदेश में सत्ताधारी पार्टी कांग्रेस में इस बार लोकसभा टिकट को लेकर अटकलों का बाजार गर्म है। कांग्रेस में चुनाव से पहले जिस नेता को लेकर सबसे अधिक चर्चा है वह है गुना-शिवपुरी संसदीय क्षेत्र से आने वाले कांग्रेस सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया। सिंधिया के इस बढ़े हुए कद के बाद यह चर्चा जोरों पर है कि पार्टी इस बार उनको लोकसभा चुनाव में ग्वालियर सीट से चुनाव लड़ाने की तैयारी कर रही है, वहीं सिंधिया के ग्वालियर से चुनाव लड़ने पर उनकी वर्तमान लोकसभा सीट गुना-शिवपुरी सीट से उनकी पत्नी प्रियदर्शिनी राजे सिंधिया के चुनाव लड़ने की चर्चा है। 


अपनी अलग ही सियासी स्टाइल के लिए पहचाने जाने वाले सिंधिया घराने के 'महाराज' ज्योतिरादित्य सिंधिया वर्तमान में गुना-शिवपुरी सीट से लोकसभा सांसद हैं, लेकिन इस बार चुनाव से पहले सिंधिया के अपनी सीट बदलकर ग्वालियर लोकसभा सीट से चुनाव लड़ने की चर्चा तेज है। 
 
लोकसभा चुनाव से ठीक पहले कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने ज्योतिरादित्य सिंधिया को पार्टी महासचिव बनाकर पश्चिम उत्तर प्रदेश के प्रभारी की जिम्मेदारी दी है। प्रियंका गांधी के साथ ज्योतिरादित्य सिंधिया को कांग्रेस का महासचिव बनाए जाने और उत्तरप्रदेश जैसे अहम राज्य में महत्वपूर्ण जिम्मेदारी देने से देखते ही देखते ज्योतिरादित्य सिंधिया का राष्ट्रीय राजनीति में कद बहुत ही बढ़ गया। 
सिंधिया के इस बढ़े हुए कद के बाद यह चर्चा जोरों पर है कि पार्टी इस बार उनको लोकसभा चुनाव में ग्वालियर सीट से चुनाव लड़ाने की तैयारी कर रही है, वहीं सिंधिया के ग्वालियर से चुनाव लड़ने पर उनकी वर्तमान लोकसभा सीट गुना-शिवपुरी सीट से उनकी पत्नी प्रियदर्शिनी राजे सिंधिया के चुनाव लड़ने की चर्चा है। 
 
इन सियासी अटकलों के बी़च अब सिंधिया समर्थक नेता और कार्यकर्ता खुलकर अपने 'महाराज' और 'महारानी' दोनों को लोकसभा चुनाव लड़ाने के लिए खुलकर सामने आ गए हैं। 
 
गुना में लोकसभा चुनाव प्रत्याशी चयन को लेकर हुई बैठक में 'महारानी' प्रियदर्शिनी राजे सिंधिया को गुना-शिवपुरी लोकसभा सीट से चुनाव लड़ने की मांग को लेकर स्थानीय कांग्रेस कमेटी ने एक प्रस्ताव पास कर पार्टी आलाकमान को भेजा है। अब ग्वालियर जिला कांग्रेस अध्यक्ष देवेंद्र शर्मा और पूर्व विधायक रामवरण सिंह गुर्जर ने 'महाराज' को ग्वालियर लोकसभा सीट से चुनाव लड़ाने की मांग की है। 
 
ग्वालियर से ज्योतिरादित्य सिंधिया को चुनाव लड़ाकर पार्टी बीजेपी से इस बार ये सीट छीनना चाह रही है। वर्तमान में ग्वालियर सीट से केंद्रीय मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर बीजेपी के टिकट पर सांसद हैं। पिछले तीन लोकसभा चुनाव से कांग्रेस को ग्वालियर सीट पर बीजेपी के हाथों हार का सामना करना पड़ रहा है। ऐसे में पार्टी चाहती है कि बीजेपी का गढ़ बनती जा रही इस सीट से ज्योतिरादित्य सिंधिया चुनाव लड़ें। इसके साथ ही सिंधिया के ग्वालियर से चुनाव लड़ने से मुरैना और भिंड सीटे जो अभी बीजेपी का कब्जे में उस पर भी प्रभाव पड़ेगा।

'महारानी' की सियासी एंट्री की तैयारी : गुना शिवपुरी से चुनाव लड़ने की अटकलों के बीच ठीक लोकसभा चुनाव की तारीखों के ऐलान से पहले प्रियदर्शिनी राजे सिंधिया पहली बार क्षेत्र के दौरे पर जा रही हैं। अब तक केवल अपने पति ज्योतिरादित्य सिंधिया के चुनाव प्रचार के समय क्षेत्र में सक्रिय रहने वाले प्रियदर्शिनी राजे सिंधिया पहली बार चुनाव से पहले एक सप्ताह से अधिक समय के लिए गुना-शिवपुरी के दौरे पर हैं।

18 फरवरी से 26 फरवरी तक गुना-शिवपुरी संसदीय क्षेत्र के दौरे पर रहने वाले प्रियदर्शिनी राजे सिंधिया के 25 से अधिक महिला सम्मेलनों में शामिल होने का कार्यक्रम है। इतने बड़े कार्यक्रम को एक तरह से प्रियदर्शिनी राजे सिंधिया की सियासी एंट्री की तैयारियों के रूप में देखा जा रहा है।

वेबदुनिया पर पढ़ें

अगला लेख 'आप' के मंच पर फिर होगा विपक्षियों का जमावड़ा, राहुल गांधी को भेजा बुलावा