मायावती कर रही हैं किनारा, कांग्रेस को भरोसा 2019 में बनेगी सरकार तो मिट जाएंगे मनभेद और मतभेद

बुधवार, 20 मार्च 2019 (20:20 IST)
नई दिल्ली। मायावती के चुनाव नहीं लड़ने और खुद को प्रधानमंत्री पद की दौड़ में रहने का संकेत देने की पृष्ठभूमि में कांग्रेस ने बुधवार को कहा कि 2019 में सरकार उसके नेतृत्व में बनेगी और जिन दलों के साथ मतभेद दिखाई दे रहा है वे भी साथ होंगे।
 
पार्टी के मुख्य प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने कहा कि जहां तक किसी व्यक्ति विशेष का चुनाव लड़ने या न लड़ने का प्रश्न है, मुझे लगता है कि ये उनका अपना निर्णय हैं। वे एक अलग पार्टी में हैं और उसकी मुखिया हैं, हम उस पर कोई टिप्पणी नहीं करना चाहेंगे।
 
यह पूछे जाने पर कि क्या चुनाव नहीं लड़ने के कारण मायावती प्रधानमंत्री पद की दौड़ से बाहर हो गई हैं तो उन्होंने कहा कि मुझे लगता है कि आप विश्वास रखिए कांग्रेस के नेतृत्व में, 2019 में सरकार बनने वाली है और बहुत सारे साथी जो हैं, जिनसे आपको आज लगता है कि हमारा थोड़ा-थोड़ा मनभेद है या मतभेद है, उन सबको हम एक सूत्र में पिरो लेंगे।
दरअसल, बहुजन समाज पार्टी की मुखिया मायावती ने बुधवार को आगामी लोकसभा चुनाव न लड़ने की घोषणा की। उन्होंने कहा कि वे गठबंधन को जिताना चाहती हैं और उनके खुद चुनाव जीतने की बजाय गठबंधन की जीत जरूरी है।
 
उन्होंने कहा कि वे जब चाहें, लोकसभा का चुनाव जीत सकती हैं। उनका गठबंधन बेहतर स्थिति में है। वे लोकसभा का चुनाव नहीं लड़ेंगी और आगे जरूरत पड़ने पर किसी भी सीट से चुनाव लड़ सकती हैं।

वेबदुनिया पर पढ़ें

अगला लेख जेट एयरवेज के खाली पड़े स्लॉट को अन्य घरेलू एयरलांइस को देने का विचार