दरभंगा में मोदी बोले, हमारे पड़ोस में आतंकी की फैक्ट्रियां, ये कहते हैं आतंकवाद मुद्दा ही नहीं

गुरुवार, 25 अप्रैल 2019 (11:04 IST)
दरभंगा। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने गुरुवार को दरभंगा में एक चुनावी सभा को संबोधित करते हुए कहा कि हमारे आस पड़ोस में ही आतंक की फैक्ट्रियां चल रही हैं और ये कहते हैं की आतंकवाद मुद्दा ही नहीं है। हमारे लिए तो भारत माता की जय ही भक्ति है और वंदे मातरम् का उद्घोष, जीवन की शक्ति है।

प्रधानमंत्री ने कहा कि 3 चरण के मतदान के बाद जो महामिलावटी गला फाड़कर एयर स्ट्राइक के सबूत मांग रहे थे, वो अचानक गायब हो गए हैं। जो पाकिस्तान का पक्ष ले रहे थे, वो अब मोदी और ईवीएम को गाली देने लगे हैं। ये लोग जनता की नब्ज नहीं समझ पाए, इसलिए जनता ने 3 चरण में इन्हें ठीक से समझा दिया है।
 
उन्होंने कहा कि मां भारती की समृद्धि, सुरक्षा और शांति का ही ये दायित्व है जिसे हम 130 करोड़ भारतीय मिलकर निभा रहे हैं। ये जो लहर है ये नए भारत की ललकार है। 21वीं सदी में जो बेटा-बेटी पहली बार दिल्ली की सरकार चुन रहे हैं, वो नौजवान इस चुनाव का नेतृत्व कर रहे हैं। 
 
पीएम मोदी ने कहा कि उन्हें पुरानी बातें, जात-पात के समीकरण समझ नहीं आते। वो ठान के चले हैं कि 21वीं सदी का भारत उनकी आकांक्षाओं के अनुरूप हो।
 
उन्होंने कहा कि जिस आतंकवाद ने श्रीलंका में 350 से ज्यादा मासूमों की जान ले ली, क्या ये मुद्दा नहीं हैं? हमारे पड़ोस में आतंक की फैक्ट्री चल रही है और महामिलावटी कहते हैं कि आतंकवाद मुद्दा ही नहीं है। महामिलावट करने वालों, आपके लिए आतंकवाद मुद्दा नहीं होगा, लेकिन नए भारत में ये बहुत बड़ा मुद्दा है। ये नया हिन्दुस्तान है, ये आतंक के अड्डों में घुसकर मारेगा।

उन्होंने वादा किया कि चुनाव के बाद जब फिर NDA की सरकार आएगी, तो हम पीएम किसान सम्मान निधि योजना से 5 एकड़ की शर्त हटाकर इस योजना का लाभ देश के सभी किसानों को पहुंचाएंगे।
 
नरेंद्र मोदी ने कहा कि हमने वादा किया था की सौभाग्य योजना के तहत देश के हर परिवार तक बिजली पहुंचाने का काम हम पूरा करेंगे। मैं नितीश जी और सुशील जी को बधाई देता हूं कि इन्होंने बिहार से लालटेन को हमेशा-हमेशा के लिए विदा कर दिया और हर घर में बिजली पहुंचा दी। 
 
उन्होंने कहा कि गरीब के घर बिजली पहुंचाने का काम पहले की सरकार भी कर सकती थी, लेकिन सब अपने-अपने कुनबे का भला करने में जुटे थे। कोई फार्म हाउस बना रहा था, कोई शॉपिंग मॉल बनवा रहा था, कोई रेलवे टेंडर में खा रहा था, कोई हेलीकॉप्टर में दलाली खा रहा था

वेबदुनिया पर पढ़ें

सम्बंधित जानकारी

विज्ञापन
जीवनसंगी की तलाश है? तो आज ही भारत मैट्रिमोनी पर रजिस्टर करें- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन!

अगला लेख RCB के कप्तान कोहली का बड़ा बयान, अब हर मैच का मजा लेंगे