आफत की बारिश: पहले कराई मेंढक-मेंढकी की शादी, अब कराना पड़ा तलाक

विकास सिंह

गुरुवार, 12 सितम्बर 2019 (09:58 IST)
भोपाल। मध्य प्रदेश में भारी बारिश के चलते लोगों का जीवन मुहाल हो गया। बारिश से सबसे अधिक प्रभावित राजधानी भोपाल में पिछले 4 दिनों से जारी लगातार बारिश का सिलसिला थमने का नाम नहीं ले रहा है। राजधानी में अब तक सामान्य से डेढ़ गुना ज्यादा बारिश हो चुकी है। एक जून से अब तक भोपाल में 61 इंच से अधिक बारिश हो चुकी है जो कि अपने आप में एक रिकॉर्ड है।

बारिश के चलते लोग अपने घरों में कैद हो गए है और आम जनजीवन बुरी तरह प्रभावित हो गया है। बारिश के चलते भोपाल के निचले इलाकों में बाढ़ के हालात बन गए है। शहर के सबसे बड़े कोलार डैम से लगातार पानी छोड़े जाने से  कोलार के कई इलाकों में बाढ़ जैसे हालात पैदा हो गए है। लोगों को सुरक्षित स्थानों पर पहुंचाने के लिए जिला प्रशासन ने रेस्क्यू ऑपरेशन भी शुरू कर दिया है। अब तक सैकड़ों की संख्या में लोगों को हटाकर सुरक्षित स्थानों पर पहुंचाया गया है।

मेंढक- मेंढकी का कराया तलाक : लगातार मूसलाधार बारिश परेशान लोग अब इसको रोकने के टोटके का सहारा भी ले रहे है। भोपाल में जुलाई के महीने में भी बारिश नहीं होने पर सामाजिक सरोकार से जुड़ी संस्था ने जिस मेंढक-मेंढकी की शादी करवाई थी उसने अब बारिश रोकने के लिए उसी मेंढक-मेंढकी का तलाक करवाया है।

सामाजिक संस्था ओम शिव शक्ति सेवा मंडल के सचिव रिंकू भटेजा के मुताबिक भोपाल के साथ प्रदेश में अच्छी बारिश के लिए संस्था की तरफ से 19 जुलाई को पूरे विधि-विधान और रस्मों के साथ मेंढक और मेंढकी की शादी करवाई गई थी।

अब जब लगातार बारिश से अतिवृष्टि के हालात हो गए है तब बारिश रोकने के लिए मेंढक-मेंढकी को विसर्जित किया गया है। मिट्टी के बने यह मेंढ़क- मेंढकी शादी के बाद मंदिर में ही रखे तो इनको अलग कर विसर्जित करने से पहले मंदिर में विशेष पूजा अर्चना भी की गई।
 

वेबदुनिया पर पढ़ें

अगला लेख लद्दाख में चीन सीमा पर तनाव, भारत-चीन के सैनिकों में धक्का-मुक्की