भारी बारिश नदियां उफान पर, जनजीवन अस्त-व्यस्त, भोपाल समेत 4 जिलों में स्कूलों की छुट्टी

रविवार, 8 सितम्बर 2019 (21:39 IST)
भोपाल। मध्यप्रदेश में राजधानी भोपाल समेत कई शहरों में शनिवार शाम से हो रही भारी बारिश के चलते सामान्य जनजीवन प्रभावित हुआ। प्रदेश में नर्मदा, ताप्ती, बेतवा सहित अनेक छोटी बड़ी नदियां और बरसाती नाले ऊफान पर है, इससे कई सड़क मार्गों पर आवागमन ठप हो गया। लगभग सभी बांध पानी से लबालब है। जबलपुर के बरगी और विदिशा के शमशाबाद सहित अन्य बांधों के गेट भी फिर से खोल दिए गए हैं। भारी बारिश की वजह से सोमवार को भोपाल, विदिशा, रायसेन ओर सीहोर जिले में भी छुट्टी घोषित है।
 
विदिशा में बाढ़ के हालात : विदिशा में दोपहर हुई भारी वर्षा से बाढ़ के हालात बन गए हैं। शहर में अधिकांश निचली बस्तियों में तीन से चार फीट पानी भर गया है और सड़कों पर भी दो से तीन फीट पानी बह रहा है। जिला प्रशासन ने राहत कार्य शुरू किया है। विदिशा से रायसेन और सागर तथा अन्य कई क्षेत्रों का सड़क संपर्क कट गया है।
 
कहां-कितना बरसा पानी : मौसम विभाग के अनुसार आज भोपाल में 62.1 मिमी पानी बरस गया, बैरागढ़ में 41.3 मिमी, छिंदवाड़ा में 41 मिमी, पचमढ़ी में 45 मिमी, जबलपुर में 32 मिमी, उज्जैन में 28 मिमी, होशंगाबाद में 26 मिमी, मंडला 24 मिमी, रायसेन में 17 मिमी बारिश दर्ज की गई।
 
भोपाल समेत 32 जिलों में भारी बारिश की चेतावनी : मौसम विभाग ने अगले चौबीस घंटों के दौरान भोपाल सहित प्रदेश के 32 जिलों में कुछ स्थानों पर भारी तथा कहीं-कहीं अति भारी बारिश की चेतावनी दी है। प्रदेश में मौसम का हाल अगले तीन दिन तक लगभग ऐसा ही बने रहने का अनुमान है। 
 
राजधानी भोपाल में कई निचली बस्तियों में जलभराव होने से प्रदेश के जनसंपर्क मंत्री पी सी शर्मा ने आज बारिश के बीच प्रभावित बस्तियों का दौरा किया। उन्होंने कलेक्टर तरुण पिथोड़े को जलभराव से प्रभावित परिवारों को राशन और राहत सामग्री तुरंत उपलब्ध कराने के निर्देश दिए। निचले क्षेत्र से झुग्गीवासियों को मल्टीबिल्डिंग में शिफ्ट कराने को भी कहा। शहर में स्कूलों की छुट्टी घोषित कर दी गई है।

वेबदुनिया पर पढ़ें

अगला लेख WI vs AUS Dream11 Team : हीली और पेरी के अर्धशतकों से ऑस्ट्रेलिया बेहद मजबूत