अब निर्दलीय विधायक सुरेंद्र सिंह 'शेरा' ने दिखाए तेवर, कहा- कन्फ्यूज है सरकार, सिस्टम पर उठाए सवाल

भोपाल। मध्य प्रदेश में कमलनाथ सरकार को समर्थन दे रहे सपा और बसपा विधायकों की नाराजगी के बाद अब निर्दलीय विधायक सुरेंद्र सिंह 'शेरा' ने भी अपने तेवर दिखा दिए हैं। सरकार को समर्थन दे रहे शेरा का कहना है कि आज प्रदेश में ऐसे हालात बन गए हैं कि अधिकारी मंत्री की ही नहीं सुन रहे हैं तो विधायकों की कहां सुनेंगे।

उन्होंने कहा कि पूरे सिस्टम में कन्फ्यूजन की स्थिति दिखाई दे रही है जिससे कि पूरे सिस्टम पर सवालिया निशान भी उठ रहे हैं, जो किसी भी तरीके से अच्छा नहीं है। ऐसे हालात के लिए शेरा ने कम्युनिकेशन गैप को जिम्मेदार ठहराते हुए इसे तत्काल दूर करने की बात कही।

मुख्यमंत्री के सामने दिखाए तेवर : दूसरी तरफ शेरा अब मुख्यमंत्री कमलनाथ के सामने अपना शक्ति प्रदर्शन भी करने लगे हैं। गुरुवार को विधानसभा में सुरेंद्र सिंह 'शेरा' ने बुरहानपुर के नेपानगर के आदिवासियों के साथ मुख्यमंत्री कमलनाथ का एक तरह से घेराव कर दिया।

शेरा के नेतृत्व में नेपानगर से आए आदिवासियों का एक दल विधानसभा पहुंचा। जब मुख्यमंत्री कमलनाथ अपने कक्ष से सदन के अंदर जा रहे थे तो शेरा की अगुवाई में इन लोगों ने मुख्यमंत्री कमलनाथ से मिलकर अपनी नाराजगी का अहसास कराया। इन लोगों ने मुख्यमंत्री से कहा कि आज बाहरी लोग आकर नेपानगर में जमीन पर कब्जा कर रहे हैं, जिससे कि उनके सामने जीवन का संकट खड़ा हो गया है।

आदिवासियों की मांगों का समर्थन विधायक शेरा ने करते हुए तत्काल पूरे मामले पर ठोस कार्रवाई की मांग। सुरेंद्र सिंह 'शेरा' ने कहा कि अगर आदिवासियों की मांग नहीं मानी जाती है तो वे उनकी मांगों को लेकर अनशन करेंगे। इस दौरान आदिवासियों ने शेरा के समर्थन में नारेबाजी भी की।

वेबदुनिया पर पढ़ें

अगला लेख मोहम्मद मंसूर दिल्ली में गिरफ्तार, निवेशकों को 1400 करोड़ का चूना लगाकर हुआ था फरार