Webdunia - Bharat's app for daily news and videos

Install App

Select Your Language

Notifications

webdunia
webdunia
webdunia
webdunia
Advertiesment

भाजपा कोर ग्रुप की बैठक में नहीं शामिल हुए सिंधिया, भाजपा दफ्तर से निकलकर अचानक गए दिल्ली

हमें फॉलो करें webdunia
webdunia

विकास सिंह

मंगलवार, 8 नवंबर 2022 (16:54 IST)
भोपाल। मध्यप्रदेश में अगले साल होने वाले विधानसभा चुनाव की तैयारियों को लेकर बुलाई गई भाजपा कोर ग्रुप की बैठक विवादों में घिर गई। बैठक शुरु होने से पहले ही दिग्गज नेता ज्योतिरादित्य सिंधिया के अचानक दिल्ली जाने से सियासी पारा गर्मा गया है। कोर ग्रुप की बैठक में शामिल होने ज्योतिरादित्य सिंधिया एक दिन पहले ही भोपाल पहुंच गए थे और आज वह कोर ग्रुप की बैठक में शामिल होने के लिए भाजपा दफ्तर पहुंचे थे। लेकिन कोर ग्रुप की बैठक से पहले अचानक सिंधिया भाजपा दफ्तर से निकले और सीधे दिल्ली चले गए। सिंधिया के अचानक दिल्ली जाने का कारण उनका स्वास्थ्य ठीक नहीं होना बताया गया। 

मिशन 2023 को लेकर बेहद महत्वपूर्ण मानी जाने वाली बैठक से पहले ज्योतिरादित्य सिंधिया के अचानक दिल्ली जाने से सियासी गलियारों में हलचल शुरू हो गई है। सियासी गलियारों में अटकलें लगाई जा रही है कि सिधिया के अचानक दिल्ली जाने के पीछे कुछ और कारण है। बताया जा रहा है कि सिंधिया पिछले दिनों ग्वालियर जिला अध्यक्ष के तौर पर अभय चौधरी की नियुक्ति से खुश नहीं है औऱ आज उन्होंने पार्टी संगठन के सामने भी अपनी बात रखी। वहीं चुनाव से पहले कई जिलों में भाजपा संगठन में संभावित फेरबदल में सिंधिया अपने समर्थकों को तरजीह चाह रहे है। गौर करने वाली बात यह है कि सिंधिया जब भाजपा दफ्तर से निकले उससे ठीक पहले ग्वालियर-चंबल के दिग्गज नेता नरेंद्र सिंह तोमर भाजपा दफ्तर पहुंचे थे।

आज हुई भाजपा कोर कमेटी की बैठक के बाद आने वाले समय में करीब एक दर्जन जिलों में जिला अध्यक्षों को बदला जा सकता हैं। वहीं निगम मंडल में नियुक्ति और पार्टी संगठन में संभावित फेरबदल को लेकर भी कोर कमेटी की बैठक में चर्चा होने की बात सामने आ रही है।

वहीं आज सुबह कोर ग्रुप की बैठक में शामिल होने पहुंचे ज्योतिरादित्य सिंधिया ने प्रदेश में फिर भाजपा सरकार बनने का दावा किया। उन्होंने कहा कि प्रदेश में 2023 में कमल का फूल फिर से खिलेगा। वहीं सिंधिया ने भारत जोड़ो यात्रा पर तंज कसते हुए कहा कि राहुल गांधी भले ही कुछ भी कर ले लेकिन जनता जानती है कि कांग्रेस सिर्फ जुट की राजनीति करती है। राहुल गांधी की इस यात्रा से किसी को डर नहीं और न ही इससे कोई फर्क पड़ना है।

भाजपा कोर कमेटी की बैठक में राष्ट्रीय सह संगठन महामंत्री शिव प्रकाश,प्रदेश प्रभारी मुरलीधर राव, क्षेत्रीय संगठन महामंत्री अजय जामवाल, मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान, प्रदेश अध्यक्ष वीडी शर्मा, प्रदेश संगठन महामंत्री हितानंद शर्मा समेत कई पदाधिकारी मौजूद रहे।
 

Share this Story:

Follow Webdunia Hindi

अगला लेख

सुप्रीम कोर्ट ने दिया अहम फैसला, कहा- शिक्षा लाभ कमाने का जरिया नहीं