सपाक्स ने उम्मीदवारों के लिए बनाया प्लान, सीधे नामांकन भरवाएगी ताकि बड़े दल न तोड़ सकें प्रत्याशी

विशेष प्रतिनिधि

शनिवार, 13 अक्टूबर 2018 (23:18 IST)
भोपाल। मध्यप्रदेश में भाजपा और कांग्रेस के लिए सबसे बड़ी सियासी चुनौती के रूप में उभरी सपाक्स ने खास चुनावी प्लान बनाया है। पार्टी ने भाजपा और कांग्रेस को मात देने के लिए चुनाव के लिए खास रणनीति बनाते हुए तय किया है कि पार्टी अपने उम्मीदवारों के नाम का ऐलान पहले नहीं करेगी।
 
पार्टी को डर है कि उनके उम्मीदवारों को भाजपा और कांग्रेस लालच देकर या डरा-धमकाकर परेशान कर सकती हैं। वहीं सपाक्स ने भाजपा पर बड़ा आरोप लगाते हुए कहा कि इसकी लोकप्रियता को देखते हुए भाजपा, सपाक्स प्रत्याशियों को फर्जी मामलों में फंसा सकती है इसलिए पार्टी 1 नवंबर के बाद के प्रत्याशियों के नामों का ऐलान कर सीधे नामांकन भरवाएगी।
 
पार्टी ने पहले ही विधानसभा चुनाव में प्रदेश की सभी 230 सीटों पर चुनाव लड़ने का ऐलान कर दिया है। चुनाव की तरीखों का ऐलान होने के बाद पार्टी ने अब तक 80 सीटों पर अपने उम्मीदवार तय भी कर लिए हैं।
 
सपाक्स के राष्ट्रीय अध्यक्ष हीरालाल त्रिवेदी के मुताबिक इन उम्मीदवारों ने अपना चुनाव प्रचार भी शुरू कर दिया है। हीरालाल के अनुसार पार्टी को चुनाव लड़ने के लिए अब तक बड़ी संख्या में आवेदन मिले हैं। इसके साथ ही पार्टी ने मैदानी स्तर पर टिकट मांगने वाले दावेदारों का सर्वे भी शुरू कर दिया है।
 
पार्टी संभावित उम्मीदवारों की सामाजिक पकड़ देखने के साथ ही कई आधारों पर उनका सर्वे करने के बाद उम्मीदवारों के नामों का ऐलान करेगी। पार्टी 23 अक्टूबर तक उम्मीदवारों के आवेदन लेगी वहीं 24 अक्टूबर से एट्रोसिटी एक्ट को रद्द करने की मांग को लेकर पूरे प्रदेश में आंदोलन करने का ऐलान कर दिया।

वेबदुनिया पर पढ़ें

सम्बंधित जानकारी

विज्ञापन
जीवनसंगी की तलाश है? तो आज ही भारत मैट्रिमोनी पर रजिस्टर करें- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन!

LOADING