Webdunia - Bharat's app for daily news and videos

Install App

Select Your Language

Notifications

webdunia
webdunia
webdunia
webdunia
Advertiesment

2022 में यूपी विधानसभा का चुनाव लड़ेगी आप-केजरीवाल

हमें फॉलो करें webdunia
मंगलवार, 15 दिसंबर 2020 (12:43 IST)
नई दिल्ली। अन्ना आंदोलन से बनी आम आदमी पार्टी ने महज 8 सालों में दिल्ली में तीन बार सरकार बनाई है और पंजाब में पार्टी मुख्य विपक्ष के रूप में उबरी है। पार्टी की ईमानदारी और काम करने की नियत को देखते हुए यूपी के बहुत से लोगों और संगठनों ने आम आदमी पार्टी को यूपी के विधानसभा चुनाव लड़ने की अपील की है।
 
 
मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने मंगलवार को डिजिटल प्रेस कॉन्फ्रेंस को संबोधित करते हुए ऐलान किया कि आम आदमी पार्टी 2022 में उत्तर प्रदेश में होने वाले विधानसभा चुनाव लड़ेगी। आम आदमी पार्टी की सरकार बनने के बाद जो सुविधा दिल्ली के लोगों को मिली है, उसी तरह यूपी के लोगों को भी सभी सुविधा दी जाएगी। सीएम ने कहा कि दिल्ली में रहने वाले यूपी के लोगों ने मिलकर मुझसे मिलकर कहा कि जो सुविधा हमें दिल्ली में रहकर मिल रही है, ये सभी सुविधा यूपी में रहने वाले हमारे परिवार को भी मिलनी चाहिए।
 
यूपी के लोगों ने बताया कि वहां के लोग सभी पुरानी राजनीतिक पार्टियों से त्रस्त है। यूपी के लोगो ने हर पार्टी पर विश्वास करके मौका दिया लेकिन सभी पार्टियों ने अपना घर भरने के अलावा कुछ नहीं किया। हर पार्टियों ने लोगो की पीठ में छुरा घोंपा, सभी सरकारों ने पिछली सरकारों के भ्रष्टाचार के रिकॉर्ड तोड़ दिए। यूपी के लोगों को आखिर में क्या मिला? क्या देश का सबसे बड़ा राज्य उत्तर प्रदेश विकसित राज्य नहीं बन सकता?
 
मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा कि जब दिल्ली के संगम विहार में मोहल्ला क्लिनिक बन सकता है तो क्या लखनऊ के गौमती नगर में मोहल्ला क्लिनिक नहीं बनाया जा सकता? दिल्ली के सरकारी अस्पताल देश के बेहतरीन अस्पताल बन सकते हैं तो यूपी के सरकारी अस्पतालों की हालत ख़राब क्यों है? दिल्ली के लोगों को 24 घंटे बिजली मिल सकती है तो यूपी के लोगों को पॉवर कट क्यों झेलने पड़ रहे हैं? दिल्ली के लोगों को मुफ्त में बिजली मिल सकती है तो यूपी के लोगों को क्यों नहीं, यूपी के लोगों को इतने ज्यादा बिजली के बिल क्यों भरने पड़ रहे हैं?
 
दिल्ली के स्कूलों में प्राइवेट जैसी सुविधा मिल सकती है तो यूपी के स्कूलों की हालत बदहाल क्यों है? दिल्ली में महिलाओ की सुरक्षा के लिए हर जगह सीसीटीवी कैमरे लगाए गए है तो यूपी में हमारी बहनों के साथ दुष्कर्म क्यों होता है, यूपी में महिलाओं की सुरक्षा सुनिश्चित क्यों नहीं की जा सकती? क्योंकि यूपी की गंदी राजनीति और भ्रष्ट नेता यूपी को प्रगति की रह पर चलने से रोक रहे हैं। 
 
सीएम ने कहा कि लोग पूछेंगे कि यूपी में बहुत सी राजनीतिक पार्टियां हैं तो आम आदमी पार्टी अलग से क्या लेकर आएगी, तो मैं बताना चाहूंगा कि यूपी की मौजूदा राजनीति में सही और साफ नीयत की कमी है। आम आदमी पार्टी के नेताओं की नीयत साफ और सही है। इसी सही नीयत से काम करके आम आदमी पार्टी ने दिल्ली की सूरत बदलकर दिखाई है।
 
ईमानदार दिल्ली सरकार ने साबित कर दिया कि सरकारों के पास पैसों की कमी नहीं होती, नीयत की कमी होती है। दिल्ली के लोग चाहते थे कि उनके बच्चों को अच्छी शिक्षा मिले, परिवार को अच्छी स्वास्थ सेवाएं मिले, ईमानदार सरकार मिले इसलिए उन्होंने आम आदमी पार्टी की सरकार को चुना।
 
दिल्ली के लोगों को पहली बार दिल्ली में बेहतर काम होते दिखा तो उन्हें पार्टी से इतना प्यार हो गया कि दिल्लीवासी सभी अन्य पार्टियों को भूल गए। इसलिए यूपी के लोग भी आम आदमी पार्टी को एक मौका दें, मैं यक़ीन दिलाता हूं कि यूपी के लोग भी अन्य सभी पार्टियों को भूल जाएंगे।

Share this Story:

Follow Webdunia Hindi

अगला लेख

वाइस एडमिरल श्रीकांत का Corona से निधन