जनसंख्या नियंत्रण पर भागवत का बड़ा बयान, अखाड़ा परिषद ने भी किया समर्थन

रविवार, 19 जनवरी 2020 (17:08 IST)
प्रयागराज। अखिल भारतीय अखाड़ा परिषद ने राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (RSS) प्रमुख मोहन भागवत के उस बयान का समर्थन किया है जिसमें उन्होंने कहा है कि अब भारत में दो बच्चे पैदा करने का कानून बनना चाहिए।
 
अखिल भारतीय अखाड़ा परिषद के अध्यक्ष महंत नरेंद्र गिरि ने कहा, 'अखाड़ा परिषद सभी संतो से यह आह्वान करती है कि संघ प्रमुख भागवत के इस बयान का समर्थन करें और इस संबंध में जागरुकता बढ़ाने में सहयोग करें।'
 
महंत नरेंद्र गिरि ने कहा कि अधिक बच्चे होने से देश की जनसंख्या बढ़ती जा रही है। बहुत सारे ऐसे लोग हैं जो 12-12 बच्चे पैदा करके भारत की आर्थिक स्थिति को संकट में डाल रहे हैं। ऐसे में अखाड़ा परिषद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और गृह मंत्री अमित शाह से ऐसा कानून लाने की मांग करती है कि अब लोग दो ही बच्चे पैदा करें।
 
उन्होंने कहा कि कई राज्यों में इस संबंध में कानून लागू है जिसमें दो से अधिक बच्चे होने पर व्यक्ति पंचायत का चुनाव नहीं लड़ सकता, इसलिए अखाड़ा परिषद संघ प्रमुख के बयान का जोरदार समर्थन करती है और पूरा सहयोग करने को तैयार है।
 
यहां माघ मेले में लगे विश्व हिंदू परिषद के शिविर में सोमवार को होने जा रही केंद्रीय मार्गदर्शक मंडल की बैठक में भी जनसंख्या नियंत्रण पर साधु-संतों के बीच चर्चा होने की संभावना है। इस बैठक में देशभर से प्रमुख साधु संत शामिल हो रहे हैं।

क्या बोले औवेसी : हैदराबाद से सांसद असदुद्दीन ओवैसी ने कहा कि आरएसएस प्रमुख मोहन भागवत दो बच्चों की नीति बनाने के लिए कहते हैं। उन्होंने कहा कि वे (भाजपा सरकार) पिछले साढ़े पांच वर्षों में किसी को भी रोजगार मुहैया कराने में विफल रहे। अब आरएसएस के लोग दो बच्चों की नीति बनाने की बातें कर रहे हैं।

वेबदुनिया पर पढ़ें

अगला लेख पृथ्वी शॉ ने शतक जड़कर वापसी की, भारत ए दूसरे अभ्यास मैच में भी 12 रनों से जीता