अमरनाथ यात्रियों को कश्मीर में नहीं है कोई खतरा, अलगाववादियों ने दिलाया भरोसा

सोमवार, 17 जून 2019 (08:11 IST)
श्रीनगर। कश्मीर के अलगाववादियों ने रविवार को कहा कि अमरनाथ तीर्थयात्रियों को घाटी में कोई खतरा नहीं है। उन्होंने राज्य में आनेवाले तीर्थयात्रियों और पर्यटकों से किसी भी ‘झूठे प्रचार’ पर ध्यान नहीं देने की अपील की। अलगाववादियों ने कहा कि घाटी के लोग भाईचारे और सांप्रदायिक मेल-जोल को आगे बढ़ाना जारी रखेंगे।
 
ज्वाइंट रेसिस्टेंस लीडरशिप (जेआरएल) के बैनर तले अलगाववादियों ने कहा कि कुछ मीडिया चैनल घाटी में अमरनाथ यात्रा और  तीर्थयात्रियों को खतरा बताकर झूठा अभियान चला रहे हैं। जेआरएल में सैय्यद अली शाह गिलानी, मीरवाइज उमर फारूक और मोहम्मद यासीन मलिक शामिल हैं।
 
अलगाववादियों ने एक बयान में कहा कि कश्मीरी लोगों ने कठिन से कठिन समय में भी आतिथ्य की परंपरा से समझौता नहीं किया। बयान में कहा गया है कि नई दिल्ली के स्टूडियो में बैठे कुछ मीडिया हाउस झूठा प्रचार कर रहे हैं। अमरनाथ यात्रियों को घाटी में कोई खतरा नहीं है।

वेबदुनिया पर पढ़ें

अगला लेख पश्चिम बंगाल के प्रदर्शनरत डॉक्टरों के समर्थन में IMA ने किया हड़ताल का ऐलान, देशभर में बंद रहेंगे अस्पताल