अमृतसर में बड़ा हादसा : रावण दहन के दौरान भगदड़ मचने से दो ट्रेनों की चपेट में आए लोग, 50 से ज्यादा के मरने की आशंका

शुक्रवार, 19 अक्टूबर 2018 (19:45 IST)
दशहरे के मौके पर पंजाब के अमृतसर में बड़े ट्रेन हादसे की खबरें आ रही हैं। इस हादसे में 50 से ज्‍यादा लोगों की मौत की आशंका जताई जा रही है। बताया जाता है कि लोग दो ट्रेनों की चपेट में आ गए।

देखें ऐसे मची भगदड़ 

चौड़ा बाजार इलाके में रेलवे ट्रेक पर रावण का पुतला जलाया जा रहा था। इसी कारण लोगों की भीड़ पटरी पर जमा थी, तभी ट्रेन आ गई। मौके पर रेलवे के बड़े अधिकारी पुलिसबल के साथ पहुंच चुके हैं।

बचाव कार्य जारी है। घायलों को 108 एंबुलेस के जरिए अस्पताल पहुंचाया जा रहा है। यह ट्रेन पठानकोट से अमृतसर आ रही थी। अमृतसर के जोड़ा फाटक के पास चौड़ा बाजार में ट्रैक पर रावण के जलते पुतले के कारण यह हादसा हुआ है। भगदड़ के कारण ये लोग ट्रेन की चपेट में आ गए।

प्राप्त जानकारी अनुसार, अमृतसर में धोबी घाट के नजदीक जोड़ा फाटक के पास लोग रेलवे लाइन पर खड़े होकर रावण दहन का अवलोकन कर रहे थे। इसी दौरान अमृतसर से दिल्ली के लिए रवाना हुई हावड़ा और जालंधर से अमृतसर को आ रही डीएमयू रेलगाड़ियां आ गईं। बताया जा रहा है कि रावण दहन के दौरान चल रहे पटाखों की आवाज के कारण लोगों को रेलगाड़ी आने का पता नहीं चला और लोग ट्रेन की चपेट में आ गए।

पुलिस आयुक्त ने की 50 लोगों के मौत की पुष्टि : अमृतसर के पुलिस आयुक्त एस. श्रीवास्तव ने बताया कि धोबी घाट के नजदीक जोड़ा फाटक के पास लोग रेलवे लाइन पर खड़े होकर रावण दहन का अवलोकन कर रहे लगभग 50 लोगों की मौत हो गई है। उन्होंने बताया कि मरने वालों में महिलाएं और बच्चे भी शामिल हैं। उन्होंने बताया कि शवों के कई टुकड़ों में कट जाने से मृतकों की सही जानकारी जुटाना मुश्किल हो रहा है।
प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने ट्वीट कर जताया शोक : प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने अमृतसर में हुए हादसे पर शोक जताया है। प्रधानमंत्री ने हादसे में घायल हुए लोगों के जल्द स्वस्थ होने की कामना की। प्रधानमंत्री ने कहा कि हादसे में हताहत हुए लोगों के साथ मेरी संवेदनाएं हैं। 
 
प्रत्यक्षदर्शी बहुजन समाज पार्टी के नेता तरसेम सिंह भोला ने बताया कि रेललाइनों पर सैकड़ों लोग खड़े थे जो रेलगाड़ी की चपेट में आए हैं। उन्होंने बताया कि घटना के समय रेलवे फाटक भी खुला हुआ था। रेलगाड़ी धड़ाधड़ गुजर गई।

वेबदुनिया पर पढ़ें

सम्बंधित जानकारी

विज्ञापन
जीवनसंगी की तलाश है? तो आज ही भारत मैट्रिमोनी पर रजिस्टर करें- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन!

LOADING