Select Your Language

Notifications

webdunia
webdunia
webdunia
webdunia
Advertiesment

जयशंकर की चीन को दो टूक, 'एलएसी पर यथास्थिति में परिवर्तन का कोई भी एकतरफा प्रयास स्वीकार नहीं'

webdunia
रविवार, 1 नवंबर 2020 (00:43 IST)
नई दिल्ली। चीन-भारत सीमा गतिरोध के बीच विदेश मंत्री एस. जयशंकर ने कहा कि वास्तविक नियंत्रण रेखा (LAC) पर यथास्थिति में परिवर्तन का कोई भी एकतरफा प्रयास 'अस्वीकार्य' है और संबंधों में सामान्य स्थिति बहाल करने के लिए दोनों देशों के बीच के समझौतों का पूरी समग्रता के साथ 'निष्ठापूर्वक' सम्मान किया जाना चाहिए।
जयशंकर ने कहा कि सीमा क्षेत्रों में शांतिपूर्ण माहौल ने भारत और चीन के बीच अन्य क्षेत्रों में समन्वय के विस्तार के लिए आधार उपलब्ध कराया, लेकिन महामारी सामने आने के बीच संबंध तनावपूर्ण हो गए हैं। वे सरदार पटेल स्मारक व्याख्यान दे रहे थे जिसका आकाशवाणी से प्रसारण किया गया।
विदेश मंत्री ने कहा कि उन धारणाओं में परिवर्तन से संबंध अप्रभावित नहीं रह सकते जो इसे रेखांकित करती हैं। उन्होंने कहा कि तीन दशकों तक संबंध स्थिर रहे क्योंकि दोनों देशों ने नयी परिस्थितियों और विरासत में मिली चुनौतियों का समाधान किया।
 
भारत और चीन के बीच पिछले 5 महीने से भी अधिक समय से पूर्वी लद्दाख में सीमा पर गतिरोध बना हुआ है जिससे संबंध तनावपूर्ण हो गए हैं। दोनों पक्षों के बीच राजनयिक एवं सैन्य स्तर पर कई दौर की वार्ता हो चुकी है लेकिन गतिरोध समाप्त नहीं हो सका है। (भाषा)

Share this Story:

Follow Webdunia Hindi

अगला लेख

COVID-19 in Delhi : दिल्ली में Corona के रिकॉर्ड मामले, संक्रमितों की संख्या 3.86 लाख के पार