अगस्ता वेस्टलैंड मामले में भारत को बड़ी सफलता, बिचौलिया मिशेल दिल्ली लाया गया

मंगलवार, 4 दिसंबर 2018 (23:43 IST)
नई दिल्ली। अगस्ता वेस्टलैंड हेलिकॉप्टर घोटाला मामले में भारत को उस समय बड़ी कामयाबी हाथ लगी जब 3,600 करोड़ रुपए के इस VVIP चॉपर सौदे के बिचौलिए और ब्रिटिश नागरिक क्रिश्चियन मिशेल को भारत ले आया गया।
 
यह ऑपरेशन राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजीत डोभाल के नेतृत्व में चलाया गया। भारत की जांच एजेंसियां मिशेल को मंगलवार को दुबई इंटरनेशनल एयरपोर्ट ले गईं थीं। वहां से उन्हें भारत लाया गया। 
 
मिशेल को रातभर सीबीआई मुख्यालय में रखा गया। उन्हें सीबीआई की विशेष अदालत में पेश किया जाएगा। उससे मेडिकल जांच के बाद पूछताछ की जाएगी। 

सीबीआई के प्रवक्ता अभिषेक दयाल ने बताया कि माइकल ने सह-आरोपियों के साथ मिलकर आपराधिक षडयंत्र रचा। इसके तहत लोक सेवकों ने वीवीआईपी हेलीकॉप्टर की ऊंचाई 6000 मीटर से घटाकर 4500 मीटर कर अपने सरकारी पद का दुरुपयोग किया।

भारत सरकार ने आठ फरवरी 2010 को रक्षा मंत्रालय के जरिए ब्रिटेन की अगस्तावेस्टलैंड इंटरनेशनल लि को लगभग 55.62 करोड़ यूरो का ठेका दिया था।
 
उन्होंने कहा कि माइकल अगस्ता वेस्टलैंड मामले में भारत में आपराधिक कार्यवाही से बच रहा था। उसे यूएई से भारत प्रत्यर्पित किया जा रहा है। राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार डोभाल के मार्गदर्शन में समूचे अभियान को सीबीआई के प्रभारी निदेशक राव समन्वित कर रहे हैं।

वेबदुनिया पर पढ़ें

सम्बंधित जानकारी

विज्ञापन
जीवनसंगी की तलाश है? तो आज ही भारत मैट्रिमोनी पर रजिस्टर करें- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन!

LOADING