Webdunia - Bharat's app for daily news and videos

Install App

Select Your Language

Notifications

webdunia
webdunia
webdunia
webdunia
Advertiesment

मप्र के खलघाट में बस नर्मदा में गिरी, ड्राइवर समेत सभी 13 लोगों की मौत

हमें फॉलो करें webdunia
सोमवार, 18 जुलाई 2022 (13:29 IST)
इंदौर। मध्यप्रदेश के धार और खरगोन जिले की सीमा पर खलघाट में सोमवार को महाराष्ट्र की एक यात्री बस अनियंत्रित होकर पुल की रेलिंग तोड़ नर्मदा नदी में जा गिरी, जिससे उसमें सवार ड्राइवर समेत सभी 13 लोगों की मौत हो गई। बस इंदौर से पुणे जा रही थी। बताया जा बस में 13 लोग ही सवार थे। इनमें से कोई भी जिंदा नहीं बचा।
 
इंदौर से महाराष्ट्र के पुणे की ओर जा रही महाराष्ट्र राज्य परिवहन निगम की बस सुबह 7.30 बजे इंदौर से रवाना हुई थी और करीब 10 बजे खलघाट पुल पर यह हादसा हुआ। करीब 60 फुट ऊंचे ब्रिज से बस नर्मदा में गिर गई। खरगोन एसपी के मुताबिक बस में ड्राइवर समेत 13 लोग ही सवार थे। इनमें से कोई भी व्यक्ति जिंदा नहीं बचा।
 
मोदी और शिवराज ने जताया शोक : प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी और मध्यप्रदेश के मुख्‍यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने हादसे पर दुख जताया है। चौहान ने एक बयान जारी कर कहा कि खरगोन जिले के खलघाट में एक बस के नर्मदा नदी में गिरने से कई अनमोल जिंदगियों के खत्म होने का हृदयविदारक समाचार प्राप्त हुआ। ईश्वर से मृतकों की आत्मा की शांति और परिजनों को यह दुख सहने की शक्ति देने की प्रार्थना करता हूं।
 
शिवराज ने कहा कि मैंने घटनास्थल पर राज्य आपदा मोचन बल (एसडीआरएफ) की टीम और अतिरिक्त आवश्यक संसाधन भेजने के निर्देश दिए हैं। मैं खरगोन, धार और इंदौर जिला प्रशासन के लगातार संपर्क में हूं।
 
शिवराज ने शिंदे से बात की : एक अधिकारी ने भोपाल में कहा कि शिवराज ने महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री एकनाथ शिंदे को फोन कर उन्हें खलघाट में हुए बस हादसे की जानकारी दी। शिवराज ने शिंदे से कहा कि मध्य प्रदेश से सभी शवों को सम्मान के साथ महाराष्ट्र पहुंचाया जाएगा। जिस पुल पर यह हादसा हुआ, वह राष्ट्रीय राजमार्ग संख्या तीन (आगरा-मुंबई रोड) पर धार और खरगोन जिले की सीमा पर स्थित है।

8 मृतकों की शिनाख्त : बताया जा रहा है कि आठ मृतकों की शिनाख्त हो चुकी है। इनमें 4 महाराष्ट्र के हैं, जबकि 2-2 मध्यप्रदेश और राजस्थान के हैं। 
 
10 लाख का मुआवाज : महाराष्ट्र के मुख्‍यमंत्री एकनाथ शिंदे ने मृतकों के परिजनों के लिए 10 रुपए की आर्थिक मदद का ऐलान किया है, जबकि मप्र के मुख्‍यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने घटना की जांच के आदेश दे दिए हैं।इसके साथ ही मध्यप्रदेश सरकार द्वारा 4-4 लाख रुपए की राहत राशि मृतकों के परिजनों को प्रदान की जाएगी। वहीं, मप्र के गृहमंत्री नरोत्तम मिश्रा ने कहा कि एक बाइक सवार को बचाने की कोशिश में हादसा हुआ। 
 
बस में सवार यात्रियों को लेकर असमंजस : इससे पहले बस में सवार यात्रियों को लेकर काफी असमंजस की स्थिति रही। शुरुआती जानकारी में इनकी संख्या 50 से 55 बताई जा रही थी। भोपाल में मध्यप्रदेश के गृहमंत्री नरोत्तम मिश्रा ने भी हादसे पर दुख जताते हुए बताया था कि 15 लोगों को बचा लिया गया है, जबकि 12 यात्रियों की मौत हो गई है।
webdunia
मिश्रा के मुताबिक, बस में 50 से 55 यात्रियों के सवार होने का अनुमान है। उन्होंने कहा कि नदी की धार बहुत तेज है। थोड़ी देर में स्थिति साफ होगी। बस को नदी से निकालने के प्रयास जारी हैं। मिश्रा के अनुसार, प्रथम दृष्ट्या ऐसा लगता है कि बस रेलिंग तोड़कर नदी में जा गिरी। उन्होंने बताया कि यह बस महाराष्ट्र सरकार की थी और इंदौर से कुल 12 लोग इसमें सवार हुए थे।

Share this Story:

Follow Webdunia Hindi

अगला लेख

कभी देखा है 5.6 करोड़ लीटर का थर्मस? जानिए क्या है इसे बनाने की वजह