CAA Protest : पुलिस और प्रदर्शनकारियों के बीच भिड़ंत

सोमवार, 10 फ़रवरी 2020 (16:25 IST)
नई दिल्ली। जामिया मिलिया इस्लामिया के छात्रों और जामिया नगर के निवासियों समेत सैकड़ों प्रदर्शनकारियों को सोमवार सुबह संसद की ओर मार्च करने से रोकने पर पुलिस के साथ उनकी भिड़ंत हो गई। दूसरी ओर, जामिया के चीफ प्रॉक्टर ने छात्रों से वापस लौटने की अपील की।

जामिया समन्वय समिति (जेसीसी) के नेतृत्व में जामिया के छात्रों और पूर्व छात्रों सहित प्रदर्शनकारियों ने रैली निकालने की कोशिश की। प्रदर्शनकारी संशोधित नागरिकता कानून (सीएए) और राष्ट्रीय नागरिक पंजी (एनआरसी) के खिलाफ संसद की ओर मार्च निकालने वाले थे।

पुलिस ने कहा कि प्रदर्शनकारियों को संसद की ओर मार्च करने की इजाजत नहीं थी। विश्वविद्यालय के आसपास सुरक्षाकर्मियों की भारी तैनाती की गई थी। प्रदर्शनकारियों ने जामिया के गेट नंबर-7 से अपना मार्च शुरू किया। पुलिस ने उनसे अपना मार्च खत्म करने की अपील की।

प्रदर्शनकारी ‘कागज नहीं दिखाएंगे’ और ‘जब नहीं डरे हम गोरों से तो क्यों डरे हम औरों से’ जैसे नारे लगा रहे थे। प्रदर्शन में कई महिलाएं भी थीं। हाथों में कई लोग तिरंगा थामे हुए थे और ‘हल्ला बोल’ के नारे लगा रहे थे। इस दौरान प्रदर्शनकारियों ने मानव श्रृंखला भी बनाई।

प्रदर्शनकारी जेबा अनहद ने कहा कि दो महीने से हम प्रदर्शन कर रहे हैं। हमसे बात करने के लिए सरकार की तरफ से कोई नहीं आया, इसलिए हम उनके पास जाना चाहते हैं। पुलिस ने प्रदर्शनकारियों को रोकने की कोशिश की तो उनकी धक्का-मुक्की हो गई। कई प्रदर्शनकारी बैरिकेड्स को पार कर गए।

वेबदुनिया पर पढ़ें

अगला लेख SC, ST आरक्षण को लेकर प्रतिबद्ध है सरकार, मंत्री गहलोत ने कहा