Select Your Language

Notifications

webdunia
webdunia
webdunia
webdunia
Advertiesment

Live Updates : चक्रवात बुरेवी का असर, तमिलनाडु, पुडुचेरी में भारी बारिश

webdunia
गुरुवार, 3 दिसंबर 2020 (14:15 IST)
तिरुवनंतपुरम। केरल से बुरेवी चक्रवात के गुजरने के मद्देनजर सात जिलों में राष्ट्रीय आपदा मोचन बल (NDRF) की 8 टीमों को तैनात किया गया हैं। आपात स्थिति से निपटने के लिए सरकार ने नौसेना और वायु सेना की मदद मांगी गई है। चक्रवाती तूफान से जुड़ी हर जानकारी...


02:14 PM, 3rd Dec
-चक्रवाती तूफान बुरेवी गुरुवार को पम्बन और कन्याकुमारी के बीच दक्षिणी तमिलनाडु तट से गुजरने वाला है।
-इसके प्रभाव के चलते बुधवार रात से ही तमिलनाडु और पुडुचेरी के कई इलाकों में भारी बारिश हो रही है।
-भारतीय मौसम विज्ञान विभाग ने बताया कि उत्तर श्रीलंका के ऊपर बना चक्रवात 70-80 किलोमीटर प्रति घंटा की रफ्तार से चलने वाली आंधी के साथ आज दोपहर तक पम्बन के नजदीक पहुंच जाएगा।
-मौसम के प्रभावों की वजह से कावेरी डेल्टा क्षेत्र में आने वाले इलाकों तिरुवरूर के कोडावसल, नागापट्टिनम, वेदारानयम, कराइकल, तिरुथुराइपोंडी और रामनाथपुरम के मुदुकुलातुर में नौ सेमी से अधिकतम 20 सेमी की बारिश हुई है।
 

10:48 AM, 3rd Dec
गृह मंत्री अमित शाह ने ट्वीट कर कहा, चक्रवाती तूफान बुरेवी को लेकर तमिलनाडु और केरल के मुख्यमंत्री से बात की। मोदी सरकार तमिलनाडु और केरल के लोगों की हर संभव मदद करने के लिए प्रतिबद्ध है। दोनों राज्यों में पहले ही NDRF की कई टीमें तैनात की गई हैं। 



10:11 AM, 3rd Dec
-रामेश्वरम में चक्रवाती तूफान बुरेवी के मद्देनज़र तटीय क्षेत्रों में हवाओं के साथ-साथ समुद्र में लहरें भी तेज़ होने लगी हैं। 
-भारत मौसम विभाग के अनुसार बुरेवी आज रात या कल सुबह तक दक्षिणी तमिलनाडु के तट को पम्बन और कन्याकुमारी के बीच से पार करेगा।

07:37 AM, 3rd Dec
-केरल में चक्रवात ‘बुरेवी’ के शुक्रवार तक पहुंचने की आशंका के मद्देनजर राज्य में हाई अलर्ट जारी कर दिया गया है।
-अधिकारियों ने स्थिति से निपटने के लिए 2000 से अधिक राहत शिविर खोले हैं और 5 दिसंबर तक तट पर मछली पकड़ने पर प्रतिबंध लगा दिया है।
-भारत मौसम विज्ञान विभाग (आईएमडी) ने पूर्वानुमान जताया है कि तिरुवनंतपुरम, कोल्लम, पथनमथिट्टा, कोट्टायम, अलप्पुझा, इडुक्की और एर्णाकुलम जिलों में 3 से 5 दिसंबर तक भारी बारिश और तेज हवा चलेगी।

07:32 AM, 3rd Dec
webdunia
-जिला अधकारियों ने सातों दिन 24 घंटे आपातकालीन सहायता के लिए हेल्प लाइन नंबर (1077) जारी किया है। निचले इलाकों में रहने वाले लोगों की सहायता के लिए शहर में त्वरित सहायता टीमों को तैनात किया गया है।
-चक्रवात के कारण भारी बारिश के मद्देनजर नेय्यर, कल्लदा, काकी, अरुविक्करा, कल्लदा, मलंकरा, कुंडला, सिरुवानी, कंजिराप्पा, वालयार, पोथुंडी, करप्पुझा सहित विभिन्न बांधों के जल स्तर को बढ़ने से रोकने के लिए कदम उठाए गए हैं। 

07:31 AM, 3rd Dec
webdunia
-इस बीच प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने केरल के मुख्यमंत्री वी पिनाराई से टेलीफोन पर चक्रवाती तूफान बुरेवी के कारण उत्पन्न स्थिति पर बातचीत की।
-उन्होंने पिनाराई को केरल की मदद के लिए केन्द्र सरकार की ओर से हर संभव मदद का आश्वासन दिया और कहा कि मैं प्रभावित क्षेत्रों में रहने वाले लोगों की कुशल क्षेम और सुरक्षा की प्रार्थना करता हूं।
-उन्होंने कहा कि लोगों को 3 दिसंबर की दोपहर से अगले 48 घंटों तक घरों से बाहर नहीं निकलने को कहा गया है। खतरे वाले क्षेत्रों से लोगों को राजस्व विभाग द्वारा बनाए गए 180 शिविरों में स्थानांतरित किया जा रहा है। सरकार लोगों स्थानांतरित करने के लिए पूरे राज्य में कुल 2,849 शिविर बना रही है।

Share this Story:

Follow Webdunia Hindi

अगला लेख

Farmer Protest Live: किसान आंदोलन जारी रहा तो राष्ट्र की सुरक्षा को खतरा-अमरिंदर सिंह