Select Your Language

Notifications

webdunia
webdunia
webdunia
webdunia
Advertiesment

दिल्‍ली में आतंकी हमला करने पहुंचे 4 संदिग्‍ध आतंकी गिरफ्तार, बड़ा धमाका करने की थी योजना

webdunia
शनिवार, 3 अक्टूबर 2020 (23:16 IST)
नई दिल्ली। दिल्ली पुलिस (Delhi police) के विशेष प्रकोष्ठ ने शनिवार को कहा कि उसने राष्ट्रीय राजधानी में आतंकवादी हमलों की कथित तौर पर साजिश रचने वाले 4 कट्टरपंथी कश्मीरी युवाओं के एक समूह को गिरफ्तार किया है।
 
प्रकोष्ठ ने एक बयान में कहा कि आरोपियों को मध्य दिल्ली के आईटीओ क्षेत्र से गिरफ्तार किया गया और उनके पास से 4 अत्याधुनिक पिस्तौल और 120 से अधिक गोलियां बरामद की गईं।
 
बयान में कहा गया है कि आरोपियों की पहचान पुलवामा निवासी अल्ताफ अहमद डार (25), मुस्ताक अहमद गनी (27), इश्फाक मजीद कोका (28) और आकिब साफी (22) के रूप में हुई है। उन्होंने बताया कि चारों आरोपी शोपियां के रहने वाले हैं।
webdunia
पुलिस ने बताया कि इश्फाक मारे गए आतंकवादी और अंसार गजवत उल हिंद के पूर्व प्रमुख बुरहान कोका का बड़ा भाई है। अंसार गजवत उल हिंद जम्मू कश्मीर में आतंकी गुट अलकायदा की शाखा है।
 
उन्होंने बताया कि कोका इस साल 29 अप्रैल को शोपियां के मेलहोरा क्षेत्र में अपने दो साथियों के साथ मुठभेड़ में मारा गया था। पुलिस ने बताया कि उसकी मौत के बाद उसका बड़ा भाई इश्फाक माजिद कोका से आतंकवादी संगठन के लिए काम करने के वास्ते अंसार गजवत उल हिन्द के सदस्यों ने संपर्क किया था।
 
उन्होंने बताया कि शुक्रवार को पुलिस को सूचना मिली थी कि कट्टरपंथी कश्मीरी युवकों के एक समूह के पास हथियारों और गोला-बारूद का एक बड़ा जखीरा है और वे आईटीओ और दरियागंज आएंगे।
 
पुलिस उपायुक्त (विशेष प्रकोष्ठ) प्रमोद सिंह कुशवाह ने कहा कि इसके बाद आईटीओ के निकट एक जाल बिछाया गया और आरोपियों को पकड़ लिया गया।
 
प्रारंभिक पूछताछ में खुलासा हुआ है कि इश्फाक को जिहाद के लिए काम करने के वास्ते अंसार गजवत उल हिंद के मौजूदा सरगना द्वारा कथित तौर पर प्रेरित किया गया था। उन्होंने बताया कि दिल्ली में ठहरने के दौरान उन्होंने हथियार और गोला-बारूद एकत्र किया।
 
कुशवाह ने बताया कि उनकी साजिश आतंकवादी गतिविधि को अंजाम देने की थी और इसके बाद उन्हें औपचारिक रूप से अंसार गजवत उल हिंद में शामिल किया जाता। उन्होंने बताया कि जांच की जा रही है।

Share this Story:

Follow Webdunia Hindi

अगला लेख

Corona vaccine पर बड़ी खबर, इस देश का दावा साल के अंत तक आ जाएगा टीका