Select Your Language

Notifications

webdunia
webdunia
webdunia
webdunia
Advertiesment

10 माह में 3 गुना बढ़े ATF के दाम, 10 से 30% तक महंगा हआ हवाई सफर

webdunia
  • facebook
  • twitter
  • whatsapp
share
मंगलवार, 16 फ़रवरी 2021 (07:39 IST)
नई दिल्ली। नागरिक उड्डयन मंत्री हरदीप सिंह पुरी ने कहा कि 25 मई को घरेलू उड़ानों के फिर से शुरू होने के बाद से विमानन टरबाइन ईंधन (ATF) की कीमत में तीन गुना की वृद्धि हुई है। उन्होंने घरेलू हवाई किराए की निचली और ऊपरी सीमा को 10 से 30 प्रतिशत तक बढ़ाने के केंद्र सरकार के फैसले के बारे में जानकारी देते हुए यह बात कही।
 
पिछले साल मई में घरेलू उड़ानों को फिर से शुरू करने की घोषणा करते हुए, विमानन मंत्रालय ने उड़ान अवधि के आधार पर वर्गीकृत 7 बैंडों के माध्यम से हवाई किराये की सीमाएं तय की थीं।
 
पहले बैंड में ऐसी उड़ानें होती हैं जो 40 मिनट से कम की होती हैं। गुरुवार को, इस बैंड के लिए, निचली सीमा 2,000 रुपए से बढ़ाकर 2,200 रुपए कर दी गई और ऊपरी सीमा 6,000 रुपए से बढ़ाकर 7,800 रुपए कर दी गई।
 
पुरी ने ट्वीट कर कहा, 'जब घरेलू उड़ानों को लॉकडाउन के बाद फिर से शुरू किया गया, तो जनता के विश्वास को बढ़ाने और जनता को कोई असुविधा न हो, यह सुनिश्चित करने के लिए सिर्फ इकोनॉमी यात्रा पर ये किराया बैंड लागू किए गए थे।”
 
उन्होंने कहा, 'तब से, कच्चे तेल की कीमत 30 डॉलर से बढ़कर 60 डॉलर प्रति बैरल हो गई है। विमानन टरबाइन ईंधन की कीमतें 17,000 रुपए प्रति किलोलीटर से बढ़कर 51,000 रुपए प्रति किलोलीटर हो गई हैं। हालांकि, निचले बैंड पर किराये का स्तर 10 प्रतिशत बढ़ाया गया है और ऊपरी बैंड पर 30 प्रतिशत बढ़ाया गया है। अधिक आपूर्ति के कारण, अधिकांश यात्राएं निचले बैंड में होती हैं।' (भाषा) 

Share this Story:
  • facebook
  • twitter
  • whatsapp

Follow Webdunia Hindi

अगला लेख

webdunia
नहीं हटेगा दिशा रवि पर अनिल विज का ट्वीट, ट्विटर ने कहा- गाइडलाइंस का उल्लंघन नहीं