मेडिकल साइंस में ऐतिहासिक उपलब्‍धि, 35 किमी दूर से रोबो‍ट के जरिए हार्ट का ऑपरेशन

गुरुवार, 6 दिसंबर 2018 (09:16 IST)
सांकेतिक फोटो

अहमदाबाद। मेडिकल साइंस में बुधवार को डॉक्टरों ने ऐतिहासिक उपलब्धि हासिल की। यहां विशेषज्ञ डॉक्टर करीब 35 किमी दूर थे और मरीज अस्पताल के ऑपरेशन थिएटर में। डॉक्टर ने रोबोट के जरिए मरीज का हार्ट का ऑपरेशन कर दिया।

देश और दुनिया के जानेमाने हार्ट सर्जन डॉ. तेजस पटेल ने दुनिया के पहले इन ह्यूमन टेलीरोबोटिक ऑपरेशन को सफलतापूर्वक पूरा किया। यह दुनिया का पहला परक्युटेनियस कोरोनरी इंटरवेंशन है, जिसे कैथेराइजेशन लैब के बाहर से किया गया है। डॉ. पटेल का दावा है कि यह दुनिया का पहला मामला है।

डॉक्टर तेजस पटेल ने स्वामीनारायण मंदिर अक्षरधाम से अहमदाबाद के एपेक्स हार्ट इंस्टीट्यूट में मरीज की टेलीरोबोटीक टेक्‍नीक से हार्ट सर्जरी को अंजाम दिया, जिस समय यहां ऑपरेशन हो रहा था, उस वक्त मरीज के साथ दूसरे डॉक्टर भी मौजूद थे। पूरी सर्जरी इंटरनेट के जरिए की गई। डॉक्टर तेजस पटेल के मुताबिक यह तकनीक मेडिकल साइंस में एक बड़ा बदलाव ला देगी।

ऑपरेशन कर मरीज के हृदय में वॉल्व लगाया गया। पूरा ऑपरेशन एक रोबोट के जरिए किया गया। डॉ. पटेल दूर बैठकर इस ऑपरेशन को इंटरनेट के माध्यम से संचालित करते रहे।

पद्मश्री से सम्मानित डॉ. तेजस पटेल का कहना है कि इस तकनीक में दिल की सर्जरी में 40 से 50 हजार तक का खर्च बढ़ सकता है लेकिन ये पूरी तरह बाजार में आ जाने के बाद दिल की सर्जरी के दाम में भी कटौती हो जाएगी। क्‍योंकि एक्सपर्ट डॉक्टर सिर्फ कंप्यूटर और रोबोट की मदद से ऑपरेशन को अंजाम दे रहे होंगे।

वेबदुनिया पर पढ़ें

सम्बंधित जानकारी

विज्ञापन
जीवनसंगी की तलाश है? तो आज ही भारत मैट्रिमोनी पर रजिस्टर करें- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन!

LOADING