Select Your Language

Notifications

webdunia
webdunia
webdunia
webdunia
Advertiesment

‘इरफान’ की क‍ब्र की बदहाली से दुखी हुए प्रशंसक को ‘सुतापा’ ने कही ये खूबसूरत बात

webdunia

नवीन रांगियाल

रविवार, 4 अक्टूबर 2020 (13:04 IST)
अभि‍नेता इरफान खान के निधन को काफी समय हो गया है लेकिन उनके प्रशसंक अब भी उन्‍हें भूल नहीं पा रहे हैं। पिछले कुछ दिनों से इरफान खान की कब्र की कुछ तस्‍वीरें सोशल मीड‍िया में वायरल हो रही हैं।

दरअसल मुंबई में जहां इरफान खान को उनके निधन के बाद दफनाया गया था वहां उस कब्र के आसपास घास-फूस उग आई थी। ट्व‍िटर पर यह तस्‍वीर आने के बाद उनके प्रशसंक कब्र को लेकर लापरवाही बरतने की बात कह रहे थे। उनके प्रशसंक कब्र का हाल देखकर काफी दुखी थे।

जब कुछ प्रशसंकों ने इस लापरवाही पर सवाल उठाए तो इरफान खान की पत्‍नी सुतापा सिकदर ने इसका जवाब दिया। यह जवाब भी सोशल मीड‍ि‍या में काफी चर्च‍ित हो रहा है।

एक यूजर ने कहा था कि इरफान की कब्र को सजाकर रखा जाना चाहिए। इस पर इरफान की पत्नी सुतापा ने जवाब दिया था। उन्‍होंने लिखा था,

दरअसल औरतों को मुस्लिम कब्रिस्तान में जाने की इजाजत नहीं होती है। इसलिए, मैंने इगतपुरी में रातरानी के पौधे लगाए हैं, जहां उनकी याद में पत्थर रखा गया है। वहां पर मैंने उनकी पसंद की चीजों को दफनाया है। मैंने उस जगह को खरीदा है, जहां पर मैं बिना किसी को बताए घंटों तक उसके सामने बैठ सकती हूं। जहां तक इस सबसे ज्यादा पूछे जाने वाले सवाल की बात है तो ये जंगली पौधे और घास बारिश की वजह से कब्र के पास उग गए हैं। उन्‍होंने आगे कहा, 'यह वाइल्ड और खूबसूरत है जैसा कि मैंने फोटो में देखा जिसकी आप बात कर रहे हैं। आखिर क्यों सब कुछ परिभाषा के अनुसार ही होना चाहिए और क्या पता कि कब्र के पास जो पौधे उगे हैं उसका कोई उद्देश्य हो। ध्यान से देखो।'
webdunia

हालांकि बाद में बाबिल ने पिता इरफान की कब्र की लेटेस्ट तस्वीरें शेयर की हैं। इस तस्वीर में उनका कब्र साफ-सुथरा नजर आ रहा है और बाबिल के छोटे भाई अयान कब्र पर पानी डालते दिख रहे हैं।

बाबिल ने कैप्शन में लिखा, 'बाबा को जंगल पसंद था। अयान मजबूत हो रहा है। कचरा और प्लास्टिक को हमेशा वहां से हटा दिया जाता है। मां ने इस कब्र के आसपास उग आए जंगलों के बारे में लिखा भी था जब फैन्स ने यहां के अस्त-व्यस्त हालत को देखकर चिंता जाहिर की थी। मुझे आपको समझाने की जरूरत है। मेरे पिता हमेशा घास और हरे पेड़-पौधों के आसपास रहना चाहते थे।

Share this Story:

Follow Webdunia Hindi

अगला लेख

COVID-19 in World : दुनियाभर में करीब साढ़े 3 करोड़ लोग Corona से संक्रमित, 10.31 लाख से अधिक की मौत