Webdunia - Bharat's app for daily news and videos

Install App

Select Your Language

Notifications

webdunia
webdunia
webdunia
webdunia
Advertiesment

Vice President Election : जगदीप धनखड़ होंगे नए उपराष्ट्रपति, विपक्ष की उम्मीदवार अल्वा को हराया

हमें फॉलो करें webdunia
शनिवार, 6 अगस्त 2022 (19:40 IST)
नई दिल्ली। एनडीए उम्मीदवार जगदीश धनखड़ देश के नए उपराष्ट्रपति होंगे। जगदीप धनखड़ ने विपक्ष उम्मीदवार मार्गरेट अल्वा को हराया। धनखड़ की जीत तय मानी जा रही थी। जीत की घोषणा के बाद प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी धनखड़ से मिलने पहुंचे। धनखड़ को 528 वोट मिले। अल्वा को 182 वोट मिले। 15 वोट अमान्य घोषित किए गए। जीत की खबर आते ही धनखड़ के पैतृक गांव झुंझनू में जश्न मनाया गया। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी जगदीप धनखड़ से मिलने पहुंचे। उन्होंने धनखड़ को जीत की बधाई दी। इसके पूर्व भाजपा के अध्यक्ष जेपी नड्डा धनखड़ से मिलने पहुंचे थे।
ALSO READ: जगदीप धनखड़ : प्रोफाइल
खबरों के मुताबिक उपराष्ट्रपति के चुनाव में 92 प्रतिशत वोटिंग हुई है। उपराष्ट्रपति के चुनाव में 725 सांसदों ने मतदान किया। TMC ने मतदान में हिस्सा नहीं लिया लेकिन TMC के शिशिर अधिकारी और डिब्येंदु अधिकारी ने मतदान किया है। स्वास्थ्य कारणों से सनी देओल और संजय धोत्रे वोटिंग में हिस्सा नहीं ले पाए।
उपराष्ट्रपति चुनाव में शनिवार को राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (NDA) के उम्मीदवार जगदीप धनखड़ ने 528 वोट हासिल करके विपक्ष की साझा उम्मीदवार मार्गरेट अल्वा को पराजित कर दिया। अधिकारियों ने बताया कि अल्वा को सिर्फ 182 वोट हासिल हुए।
 
उन्होंने बताया कि कुल 725 सांसदों ने मतदान किया था, जिनमें से 710 वोट वैध पाए गए, 15 मतपत्रों को अवैध पाया गया। धनखड़ अब एम वेंकैया नायडू के स्थान पर देश के नए उपराष्ट्रपति होंगे।
 
इससे पहले, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह, केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह और कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी समेत करीब 93 प्रतिशत सांसदों ने मतदान किया, जबकि 50 से अधिक सांसदों ने अपने मताधिकार का इस्तेमाल नहीं किया।
 
मतदान करने के पात्र 780 सांसदों में से 725 ने अपने मताधिकार का इस्तेमाल किया। मतदान सुबह 10 बजे शुरू हुआ था और शाम पांच बजें संपन्न हुआ।
 
संसद के दोनों सदनों को मिलाकर कुल सदस्यों की संख्या 788 होती है, जिनमें से उच्च सदन की आठ सीट फिलहाल रिक्त है। ऐसे में उपराष्ट्रपति चुनाव में 780 सांसद वोट डालने के लिए पात्र थे।
 
तृणमूल कांग्रेस अपनी पहले की घोषणा के मुताबिक इस चुनाव से दूर रही। उसके दोनों सदनों को मिलाकर कुल 36 सांसद हैं।

Share this Story:

Follow Webdunia Hindi

अगला लेख

नोएडा में BJP नेता श्रीकांत त्यागी ने महिला से किया दुर्व्‍यवहार, महिला आयोग ने की गिरफ्तारी की मांग