केजरीवाल के 5 मंत्री करोड़पति, केवल 1 की उम्र 40 से कम

रविवार, 16 फ़रवरी 2020 (15:46 IST)
नई दिल्ली। दिल्ली की नई सरकार के मुखिया अरविंद केजरीवाल सहित पांच मंत्री करोड़पति हैं जबकि दो मंत्री लखपति हैं। कुल मिलाकर दिल्ली के नवगठित मंत्रिमंडल में शामिल मंत्रियों की औसत संपत्ति 8.95 करोड़ रुपए से ज्यादा है।
 
केजरीवाल नीत मंत्रिमंडल की औसत आयु 47.2 वर्ष है। 7 में से 1 मंत्री की उम्र 40 साल से कम है तो तीन मंत्रियों की उम्र 40 साल से अधिक और केवल 3 की आयु 50 साल से अधिक है।
 
दिल्ली में विधानसभा की कुल क्षमता के 10 फीसदी ही विधायक मंत्री बन सकते हैं। इस लिहाज से राष्ट्रीय राजधानी में मंत्रियों की अधिकतम संख्या मुख्यमंत्री सहित सात हो सकती है, क्योंकि विधानसभा में 70 सीटें हैं।
 
दिल्ली में सातवीं विधानसभा के लिए आठ फरवरी को मतदान के बाद 11 फरवरी को चुनाव परिणाम आए थे। इन नतीजों में सबसे ज्यादा आम आदमी पार्टी (आप) को 62 सीटें मिली थी और भाजपा को सिर्फ 8 सीटों से संतोष करना पड़ा था। वहीं 15 साल तक दिल्ली में सरकार चलाने वाली कांग्रेस को एक भी सीट नहीं मिली थी।
 
दिल्ली के नए मंत्रिमंडल ने रविवार को पद एवं गोपनीयता की शपथ ली। शपथ लेने वालों में मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल, मनीष सिसोदिया, गोपाल राय, सतेंद्र जैन, इमरान हुसैन, राजेंद्र पाल गौतम और कैलाश गहलोत हैं।
 
किसके पास कितनी संपत्ति : दिल्ली सरकार में सबसे अमीर मंत्री नजफगढ़ से विधायक 45 वर्षीय गहलोत हैं और सबसे कम संपत्ति राय के पास है। एडीआर की एक रिपोर्ट के मुताबिक गहलोत ने 46.07 करोड़ रुपये से ज्यादा की संपत्ति होने की जानकारी दी है। इनके बाद संपत्ति के मामले में दूसरे स्थान पर शकूर बस्ती से विधायक 55 वर्षीय जैन हैं। उन्होंने 8.07 करोड़ रुपए की अपनी संपत्ति बताई है। तीसरे स्थान पर 51 वर्षीय मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल हैं। उनके पास 3.44 करोड़ रुपए से ज्यादा की संपत्ति है।
 
सीमापुरी (सुरक्षित) सीट से विधायक 51 वर्षीय राजेन्द्र पाल गौतम ने 1.88 करोड़ रुपए की संपत्ति होने की घोषणा की है। बल्लीमारान से विधानसभा सदस्य 38 साल के इमरान हुसैन ने 1.41 करोड़ रुपए की संपत्ति की घोषणा की है। आप सरकार में नंबर दो माने जाने वाले सिसोदिया और बाबरपुर से विधायक राय लखपति हैं। 44 वर्षीय राय के पास 90.01 लाख रुपए की संपत्ति है तो पटपड़गंज से विधायक 47 वर्षीय सिसोदिया 93 लाख की संपत्ति के मालिक हैं।
 
मंत्रियों की शिक्षा की बात करें तो मुख्यमंत्री केजरीवाल इंजीनियर हैं तो सिसोदिया के पास पत्रकारिता में डिप्लोमा है।
webdunia-ad

वेबदुनिया पर पढ़ें

अगला लेख अपराजेय नहीं हैं मोदी और शाह, संजय राउत ने कसा भाजपा पर तंज