किसानों का संसद मार्च, पूर्व प्रधानमंत्री देवेगौड़ा भी पहुंचे

शुक्रवार, 30 नवंबर 2018 (10:42 IST)
नई दिल्ली। कर्ज मुक्ति और फसल की लागत का डेढ़ गुना न्यूनतम समर्थन मूल्य दिए जाने की मांग को लेकर किसान गुरुवार से दिल्ली में प्रदर्शन कर रहे हैं। किसान आज रामलीला मैदान से संसद मार्च कर रहे हैं। 
 
मोदी सरकार की नीतियों के खिलाफ आवाज बुलंद करने के लिए किसान मुक्ति मोर्चा के नेतृत्व में किसान रामलीला मैदान से संसद तक मार्च करेंगे। किसानों ने चेतावती दी है कि अगर उन्हें संसद की ओर जाने से रोका गया तो फिर वे न्यूड प्रदर्शन करेंगे।

किसानों का समर्थन करते हुए पूर्व प्रधानमंत्री एचडी देवेगौडा भी किसान मार्च में शामिल हुए। उन्होंने कहा कि किसान जाग चुके हैं। मैं सरकार से किसानों की समस्या सुलझाने की अपील करता हूं।


पुलिस के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि मध्य दिल्ली और नई दिल्ली पुलिस जिलों में मार्च को देखते हुए विशेष बंदोबस्त किए गए हैं।
 
उन्होंने बताया कि उप-निरीक्षक रैंक तक के लगभग 850 पुलिसकर्मियों को मध्य जिले में तैनात किया गया है। उनके अलावा 12 पुलिस कंपनियां होंगी जिनमें से दो कंपनियां महिला पुलिसकर्मियों की होंगी। प्रत्येक कंपनी में 75-80 पुलिसकर्मी हैं।
 
 
 
अखिल भारतीय किसान सभा के राष्ट्रीय सचिव अतुल अंजान ने बताया, 'हम सुबह लगभग साढ़े दस बजे के आस-पास संसद की ओर मार्च शुरू करेंगे। बृहस्पतिवार रात को पुलिस से इस बारे में चर्चा की थी ताकि सब कुछ आसानी से हो जाए।’'
 

वेबदुनिया पर पढ़ें

सम्बंधित जानकारी

विज्ञापन
जीवनसंगी की तलाश है? तो आज ही भारत मैट्रिमोनी पर रजिस्टर करें- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन!

LOADING