Webdunia - Bharat's app for daily news and videos

Install App

Select Your Language

Notifications

webdunia
webdunia
webdunia
webdunia
Advertiesment

दिल्ली में अगले 5 दिन नहीं चलेगी लू, जानिए देश में कैसा रहेगा मौसम

हमें फॉलो करें webdunia
शुक्रवार, 26 मई 2023 (08:35 IST)
Weather Updates: दिल्ली (Delhi) के कुछ हिस्सों में गुरुवार को हल्की बारिश हुई और धूलभरी तेज हवाएं चलीं। अधिकतम तापमान 36.9 डिग्री सेल्सियस रहा। भारत मौसम विज्ञान विभाग (IMD) के अनुसार पालम वेधशाला ने हवा की गति 58 किमी प्रति घंटे दर्ज की। आईएमडी ने कहा कि अगले 2 से 3 दिनों में राजधानी में इसी तरह की स्थिति रहने की उम्मीद है और 30 मई तक लू का अनुमान नहीं है।
 
मौसम विभाग के अनुसार पश्चिमी हिमालयी क्षेत्र में सक्रिय पश्चिमी विक्षोभ के प्रभाव से अगले 2 से 3 दिनों में राष्ट्रीय राजधानी और इसके आसपास के क्षेत्रों सहित उत्तर-पश्चिम भारत में रुक-रुककर बारिश होने का पूर्वानुमान है। सोमवार और मंगलवार को दिल्ली के कई हिस्सों में लू चली तथा कई मौसम केंद्रों ने अधिकतम तापमान 45 डिग्री सेल्सियस से ऊपर दर्ज किया।
 
अधिकारियों ने कहा कि लू के चलते मंगलवार को दिल्ली में बिजली की मांग बढ़कर 6,916 मेगावॉट हो गई, जो इस मौसम में अब तक सबसे अधिक है। उन्होंने कहा कि पिछली गर्मियों में शहर में बिजली की मांग 7,695 मेगावॉट दर्ज की गई थी और इस साल यह 8,100 मेगावॉट तक पहुंच सकती है।
 
webdunia
ओडिशा में भीषण गर्मी का प्रकोप : ओडिशा में गुरुवार को दिन के समय भीषण गर्मी का प्रकोप जारी रहा जबकि दोपहर में आंधी ने कई इलाकों में नुकसान पहुंचाया। भारत मौसम विज्ञान विभाग (आईएमडी) ने यह जानकारी दी। मौसम विभाग के अनुसार आंधी के कारण कई पेड़ उखड़ गए और बिजली की लाइनें टूट गईं जिससे भुवनेश्वर, पुरी, पिपिली और कटक में कई जगहों पर बिजली की आपूर्ति बाधित हो गई। संबलपुर, सुंदरगढ़, ढेंकानल, कोरापुट, कटक और नबरंगपुर के इलाकों में कच्चे घर भी क्षतिग्रस्त हो गए।
 
विशेष राहत आयुक्त सत्यब्रत साहू ने प्रभावित जिलों को बिजली आपूर्ति बहाल करने के लिए बिजली वितरण कंपनियों से संपर्क करने और उखड़े हुए पेड़ों और टूटी शाखाओं को हटाने के लिए अग्निशमन विभाग के कर्मियों की मदद लेने को कहा है। उन्होंने जिलों से मकानों को हुए नुकसान और हताहतों की संख्या की रिपोर्ट मांगी है।
 
आईएमडी ने कहा कि दिन के दौरान राज्य के पश्चिमी भाग में 14 स्थानों पर अधिकतम तापमान 40 डिग्री सेल्सियस से ऊपर दर्ज किया गया जिसमें तालचेर सबसे गर्म स्थान रहा, जहां अधिकतम तापमान 42.8 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। इसके बाद संबलपुर में अधिकतम तापमान 42.7 डिग्री सेल्सियस, नौपाड़ा में अधिकतम तापमान 42.4 डिग्री सेल्सियस और झारसुगुड़ा में अधिकतम तापमान 42.2 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया।
 
राज्य की राजधानी भुवनेश्वर में दिन के पहले पहर में अधिकतम तापमान 40 डिग्री सेल्सियस था, वहीं दोपहर में आंधी का सामना करना पड़ा। आईएमडी ने अगले 3 दिनों तक दिन के समय गर्मी और शाम को बारिश की इसी तरह की मौसम की स्थिति का अनुमान जताया है।
 
स्काईमेट के अनुसार पश्चिमी विक्षोभ उत्तरी मैदानी इलाकों की ओर बढ़ रहा है। एक प्रेरित चक्रवाती हवाओं का क्षेत्र पंजाब और उससे सटे पाकिस्तान पर बना हुआ है। एक ट्रफ पंजाब से पश्चिम बंगाल तक जा रही है। एक चक्रवाती हवाओं का क्षेत्र झारखंड और आसपास के क्षेत्रों पर बना हुआ है। एक और चक्रवाती हवाओं का क्षेत्र बांग्लादेश पर बना हुआ है। एक उत्तर-दक्षिण ट्रफ रेखा दक्षिण-पूर्व मध्यप्रदेश से विदर्भ होते हुए दक्षिण आंतरिक कर्नाटक और उत्तर आंतरिक कर्नाटक तक फैली हुई है।
 
आज के दौरान मौसम की संभावित गतिविधि : स्काईमेट के अनुसार आज पश्चिमी हिमालय के कुछ हिस्सों में हल्की से मध्यम बारिश और गरज के साथ बौछारें पड़ सकती हैं। पश्चिमी हिमालय के ऊपरी इलाकों में हल्की से मध्यम बर्फबारी हो सकती है। पंजाब, हरियाणा और उत्तरी राजस्थान के कुछ हिस्सों में हल्की से मध्यम बारिश के साथ 1 या 2 स्थानों पर भारी बारिश संभव है। ये मौसमी गतिविधियां धूलभरी आंधी और छिटपुट ओलावृष्टि से जुड़ी होंगी।
 
उत्तरप्रदेश, दिल्ली, उत्तर-पश्चिमी राजस्थान, उत्तरी मध्यप्रदेश और बिहार, झारखंड और पश्चिम बंगाल के कुछ हिस्सों में हल्की से मध्यम बारिश और धूलभरी आंधी चलने की आशंका है। सिक्किम, पूर्वोत्तर भारत, ओडिशा, तटीय आंध्रप्रदेश, केरल, आंतरिक तमिलनाडु और दक्षिण कर्नाटक में हल्की से मध्यम बारिश संभव है। लक्षद्वीप और अंडमान और निकोबार द्वीप समूह में हल्की बारिश संभव है। देश से लू (हीटवेव) की स्थिति कम होने की उम्मीद है।
 
Edited by: Ravindra Gupta

Share this Story:

Follow Webdunia Hindi

अगला लेख

अमित शाह की भविष्यवाणी, तीसरी बार प्रधानमंत्री बनेंगे मोदी, भाजपा को मिलेंगी 300 से ज्यादा सीटें