Webdunia - Bharat's app for daily news and videos

Install App

Select Your Language

Notifications

webdunia
webdunia
webdunia
webdunia
Advertiesment

अब कांग्रेस नेता मनीष तिवारी ने की नोट पर इस नेता की तस्वीर की मांग, राजनीति गरमाई

हमें फॉलो करें webdunia
गुरुवार, 27 अक्टूबर 2022 (08:28 IST)
नई दिल्ली। अरविंद केजरीवाल के बाद अब कांग्रेस नेता मनीष तिवारी ने नोट पर तस्वीर बदले जाने को लेकर बयान दिया है। इसके बाद अब राजनीति और ज्यादा गर्मा गई है।

उन्होंने ट्वीट कर कहा है कि क्यों ने नोट की नई सीरीज पर बाबा साहेब अंबेडकर की तस्वीर लगाई जाए। उन्होंने कहा कि एक तरफ महात्मा गांधी और दूसरी तरफ अंबेडकर की तस्वीर नोट पर लगाई जानी चाहिए। उन्होंने कहा कि यह अहिंसा और संविधान का यूनिक प्रतीक होगा।

बता दें कि इसके पहले गुजरात चुनाव से पहले दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने हिंदुत्व का दांव खेला था। केजरीवाल ने मोदी सरकार से भारतीय करेंसी पर गांधीजी के साथ-साथ लक्ष्मी-गणेश की तस्वीर छापने की अपील की है। उन्‍होंने कहा, ये बहुत अहम कदम है, जो सरकार को उठाना चाहिए। मुझे उम्मीद है कि इससे देश की अर्थव्यवस्था में सुधार होगा।

खबरों के अनुसार, गुजरात चुनाव से पहले केजरीवाल ने हिंदुत्व का दांव खेला है। दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा, मैं प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से भारतीय करंसी नोट पर लक्ष्मी और गणेश के चित्रों को शामिल करने पर विचार करने का आग्रह करता हूं। नए करंसी नोट पर महात्मा गांधी की तस्वीर के बगल में लक्ष्मी और गणेश के चित्र प्रकाशित किए जा सकते हैं।

दिल्ली के मुख्यमंत्री ने कहा कि वह इसके लिए जल्द ही पीएम नरेंद्र मोदी को चिट्ठी लिखेंगे। उन्‍होंने कहा, अगर हमारे करंसी नोट पर लक्ष्मी और गणेश का चित्र होगा तो हमारा देश समृद्ध होगा। उन्‍होंने कहा, इंडोनेशिया एक मुस्लिम देश है, वहां 2 फीसदी से भी कम हिंदू हैं, लेकिन उन्होंने भी अपने नोट पर गणेश जी की तस्वीर छाप रखी है।

उन्‍होंने कहा, हम ये नहीं कह रहें हैं कि सारे नोट बदले जाएं, लेकिन जो नए नोट छपते हैं, उनके ऊपर ये शुरुआत की जा सकती है और धीरे धीरे करके सर्कुलेशन में ये नए नोट आ जाएंगे। अब मनीष तिवारी का बयान इसे लेकर वायरल हो रहा है। हालांकि बीजेपी इसे लेकर लगातार हमलावर हो रही है, लेकिन मनीष तिवारी के बयान के बाद राजनीति और ज्यादा गर्मा गई है।

Edited By Navin Rangiyal (इनपुट भाषा)

Share this Story:

Follow Webdunia Hindi

अगला लेख

खुशखबरी, वेतन बढ़ने के मामले में दुनिया में सबसे आगे हो सकता है भारत