जेट एयरवेज के संस्थापक नरेश गोयल ने जेट परिवार के नाम लिखा भावुक पत्र

बुधवार, 3 अप्रैल 2019 (23:08 IST)
मुंबई। निजी विमान सेवा कंपनी जेट एयरवेज के संस्थापक नरेश गोयल ने एयरलाइंस के कर्मचारियों के नाम एक भावुक पत्र लिखा है जिसमें उन्होंने वित्तीय संकट से जूझ रही कंपनी को शुभकामनाएं दी हैं और कंपनी छोड़ने के अपने फैसले को उसके हित में दिया गया 'बलिदान' बताया है।
 
गोयल ने लिखा है कि यह सुनिश्चित करने के लिए कि जेट एयरवेज मौजूदा संकटों से सकुशल पार पा सके। मैंने एयरलाइन में अपना पूरा नियंत्रण तथा हित छोड़ने का फैसला किया ताकि जेट परिवार का स्थायी हित साधा जा सके। यह मेरी दिली इच्छा है कि जेट एयरवेज न सिर्फ अपना अस्तित्व बचा सके बल्कि हर कर्मचारी को अर्थपूर्ण रोजगार और विकास के अवसर प्रदान कर सके।
 
उल्लेखनीय है कि गोयल ने ऋणदाता बैंकों के भारतीय स्टेट बैंक के नेतृत्व वाले कंसोर्टियम के निर्देश पर कंपनी के निदेशक मंडल तथा सभी पदों से त्यागपत्र दे दिया है। वे बकाया ऋण के बदले बैंकों को शेयर जारी करने पर भी राजी हो गए हैं। इस फैसले से एयरलाइंस पर गोयल परिवार की नियंत्रक हिस्सेदारी नहीं रह जाएगी।
 
उन्होंने लिखा है कि भारतीय ऋणदाताओं के कंसोर्टियम के साथ पूरा सहयोग करते हुए मैंने उनकी हर शर्त मानी है। नकदी समय पर मिले, इसके लिए उन्होंने जहां कहा, मैंने दस्तखत किए ताकि कंपनी का भविष्य बचाया जा सके। मैं जेट एयरवेज के वृहद परिवार को तहे दिल से शुभकामना देता हूं कि जल्द से जल्द स्थिति सामान्य हो और आने वाले वर्षों में उन्हें असीम सफलता मिले। (वार्ता)

वेबदुनिया पर पढ़ें

सम्बंधित जानकारी

विज्ञापन
जीवनसंगी की तलाश है? तो आज ही भारत मैट्रिमोनी पर रजिस्टर करें- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन!

अगला लेख वित्तीय संकट से जूझ रही जेट एयरवेज ने मार्च के वेतन का भुगतान टाला