न्यूजीलैंड हमले में गुजरात के 4 मृतकों के परिवार गम में डूबे

रविवार, 17 मार्च 2019 (17:49 IST)
अहमदाबाद। न्यूजीलैंड की 2 मस्जिदों पर हुए आतंकी हमले में मारे लोगों में गुजरात के 4 लोग शामिल हैं। इस वजह से यहां 3 परिवार गम में डूबे हुए हैं। बीते शुक्रवार को न्यूजीलैंड की 2 मस्जिदों पर आतंकी हमला हुआ था जिसमें कम से कम 50 नमाजियों की मौत हो गई थी। 2 मृतक गुजरात के भरूच और नवसारी जिले के रहने वाले थे।
 
इसके अलावा हमले में मारे गए पिता-पुत्र का ताल्लुक वडोदरा से था। यहां उनका परिवार गम में डूबा हुआ है और दु:ख से उबर पाना उनके लिए मुश्किल हो रहा है। वडोदरा की यास्मीन वोरा ने बताया कि उनके रिश्तेदार आरिफ वोरा (58) 14 फरवरी को अपनी पत्नी के साथ अपने बेटे रमीज वोरा (28) से मिलने न्यूजीलैंड गए थे। उनका बेटा हाल में ही बाप बना था।
 
उन्होंने बताया कि रमीज न्यूजीलैंड में बस गए थे और जुमे (शुक्रवार) की नमाज के लिए अपने माता-पिता को मस्जिद लेकर गए थे, जहां आतंकी हमला हो गया। आरिफ का अन्य बेटा राहील ऑस्ट्रेलिया में रहता है। उन्होंने पुष्टि की कि हमले में आरिफ भाई और रमीज दोनों का इंतकाल हो गया।
 
भरूच जिले के लुवारा गांव के रहने वाले और इमाम हाफिज मूसा पटेल (56) कुछ हफ्ते पहले ही न्यूजीलैंड गए थे और उनकी योजना वहां बसने की थी। उनके रिश्तेदार अयूब घाडी ने बताया कि पटेल 3 दशक से फिजी में रहते थे। उनकी 2 बेटियां और 3 बेटे ऑस्ट्रेलिया और न्यूजीलैंड में बस गए हैं। पटेल अपनी नागरिकता की पुष्टि होने के बाद 3 हफ्ते पहले ही न्यूजीलैंड गए थे।
 
घाडी ने बताया कि वे अपनी पत्नी और एक दोस्त के साथ जुमे की नमाज पढ़ने के लिए मस्जिद गए थे तभी गोलीबारी हुई। पटेल की कमर में गोलियां लगीं। इसके बाद उन्हें क्राइस्टचर्च के अस्पताल में भर्ती कराया गया, जहां उन्होंने दम तोड़ दिया।
 
पुलिस अधीक्षक गिरीश पांड्या ने बताया कि मृतकों में नवसारी जिले के जुनैद कारा भी शामिल हैं तथा कारा नवसारी जिले के अदादा गांव के रहने वाले थे। उनकी मौत की पुष्टि शनिवार रात ही हुई है। (भाषा)

वेबदुनिया पर पढ़ें

अगला लेख पुलवामा हमले के बाद तैयार थी नौसेना, विमानवाहक पोत और परमाणु पनडुब्बी ने संभाला था मोर्चा