गुजरात में उत्तर भारतीयों पर हमले, निरुपम ने साधा प्रधानमंत्री पर निशाना कहा, वोट मांगने तो बनारस ही जाना है...

सोमवार, 8 अक्टूबर 2018 (11:23 IST)
गुजरात के कई हिस्सों में गैर गुजरातियों पर हमले के बाद उनके पलायन को लेकर कांग्रेस नेता संजय निरुपम ने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी पर निशाना साधा है। प्रधानमंत्री के प्रदेश में उत्तरप्रदेश, बिहार और मध्य प्रदेश के लोगों पर हमले को लेकर कांग्रेस नेता संजय निरूपम ने कहा कि प्रधानमंत्री को यह नहीं भूलना चाहिए कि कल को उन्हें वोट मांगने के लिए वाराणसी ही जाना है। वाराणसी प्रधानमंत्री का संसदीय क्षेत्र है।
 
कांग्रेस नेता निरुपम ने कहा कि प्रधानमंत्री के गृह राज्य (गुजरात) में अगर उत्तरप्रदेश, बिहार और मध्यप्रदेश के लोगों को मार-मार के भगाया जाएगा तो एक दिन प्रधानमंत्री को भी वाराणसी जाना है। यह याद रखना वाराणसी के लोगों ने उन्हें गले लगाया और प्रधानमंत्री बनाया था। 
क्यों हो रहे हैं गैर गुजरातियों पर हमले : गुजरात के साबरकांठा जिले में 14 महीने की बच्ची से कथित तौर पर बलात्कार के आरोप में बिहार के एक मजदूर की गिरफ्तारी के बाद वहां गैर गुजरातियों के खिलाफ हिंसा का माहौल बन गया है। सोशल मीडिया पर गैर गुजरातियों, खासकर बिहार और उत्तरप्रदेश के लोगों के खिलाफ नफरतभरे संदेश फैलाए जा रहे हैं। इससे उन पर हमले हो रहे हैं। बाहरी लोगों के मन में मॉब लिंचिंग का डर बैठ गया है, इसलिए वे गुजरात छोड़कर जा रहे हैं।
 
त्योहारों की वजह से हो रहा है पलायन :  रविवार को गुजरात के डीजीपी शिवानंद झा प्रेस कॉन्फेंस में बताया कि मामले में अब तक 342 लोगों को हिरासत में लिया है। इसके साथ ही जिन इलाकों से मारपीट की खबरें ज्यादा आ रही हैं, उन इलाकों में पुलिस ने पेट्रोलिंग बढ़ा दी है। डीजीपी के अनुसार गैर गुजरातियों- खासतौर पर उत्तरप्रदेश और बिहार के रहने वाले लोगों पर हमले पिछले एक हफ्ते में गांधीनगर, मेहसाणा, साबरकांठा, पाटन और अहमदाबाद जिलों में हुए हैं। डीजीपी ने कहा कि हमने कारखानों और सोसाइटी (हाउसिंग) में निगरानी बढ़ा दी है। हम सोशल मीडिया संदेशों पर भी सख्त नजर रखे हुए हैं। गैर गुजरातियों पर हमले के बाद से राज्य के विभिन्न जिलों में अब तक 23 एफआईआर दर्ज की गई है।
 
कई हिस्सों से उत्तर भारतीयों के पलायन का कारण पूछने पर उन्होंने कहा कि लोग त्योहारों के कारण घर जा रहे हैं। उन्होंने कहा कि  अगर लोग त्योहारों के कारण घर जा रहे हैं तो इसे गलत तरीके से नहीं देखा जाना चाहिए। मैंने अपने अधिकारियों को रिहायशी इलाकों के दौरे के लिए कहा है। जरूरत पड़ी तो बस स्टैंड और रेलवे स्टेशनों पर भी जाकर पूछताछ की जाएगी।  
 
सोशल मीडिया पर नफरतभरे संदेश : डीजीपी ने बताया कि सोशल मीडिया पर गैर गुजरातियों, खासकर बिहार और उत्तरप्रदेश के लोगों के खिलाफ नफरतभरे संदेश फैलाए जाने के बाद ये हमले हुए। अहमदाबाद क्राइम ब्रांच के साइबर सेल ने सोशल मीडिया पर गैर-गुजराती लोगों के खिलाफ नफरत वाले संदेश फैलाने में संदिग्ध रूप से शामिल लोगों को गिरफ्तार करना शुरू कर दिया है।

वेबदुनिया पर पढ़ें

सम्बंधित जानकारी

विज्ञापन
जीवनसंगी की तलाश है? तो आज ही भारत मैट्रिमोनी पर रजिस्टर करें- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन!

LOADING