शोपियां का रहने वाला है 'कार बम' का मालिक, हमले में होना था जिसका इस्तेमाल

सुरेश एस डुग्गर

शुक्रवार, 29 मई 2020 (16:55 IST)
जम्मू। सुरक्षाबलों ने जिस नकली नंबर लगी कार को कल बरामद कर उसमें रखे विस्फोट को निष्क्रिय करने की खातिर जबरदस्त धमाका किया था, उसका मालिक भी हिज्बुल मुजाहिदीन का आतंकी है और वह पिछले साल ही हिज्ब मुजाहिदीन में शामिल होकर कश्मीर में तबाही के षड्यंत्र बुन रहा है। उस पर 3 लाख रुपए का इनाम भी है।

पुलिस के मुताबिक, सेंट्रो कार का मालिक शोपियां जिले के शरतपोरा गांव का रहने वाला है और उसकी पहचान 
हिदायतुल्ला मलिक के तौर पर की गई है। उसने जुलाई 2019 में हिज्ब को ज्वाइन किया था। तभी से वह कश्मीर 
में कार बम विस्फोटों को अंजाम देने की साजिशों में जुटा हुआ था।

पुलिस अधिकारियों का कहना है कि आतंकी और भी कारों को बमों के रूप में इस्तेमाल करने की साजिशें बुन रहे हैं। ऐसी 3 से 4 कारों को आतंकी आने वाले दिनों में कार बमों के तौर पर इस्तेमाल कर तबाही मचाने की योजनाएं बना रहे हैं।

वैसे कश्मीर में कार बम विस्फोट कोई नए नहीं हैं, बल्कि आतंकवाद की शुरुआत से ही आतंकियों के लिए यह 
आसान तरीके रहे हैं विस्फोट करने के और पिछले साल लेथपोरा में सीआरपीएफ के वाहन को उड़ाने की खातिर ऐसे ही बम का इस्तेमाल किया गया था और उससे पहले 1 अक्टूबर 2001 को विधानसभा के बाहर भी ऐसा विस्फोट किया गया था। यह दोनों विस्फोट आज तक के सबसे भयानक विस्फोट माने जाते हैं।
अधिकारियों का कहना है कि इन कार बमों के लिए जैशे मुहम्मद ही सभी तकनीक मुहैया करवाता आया है क्योंकि कश्मीर में फिदायीन और मानव बम हमलों की शुरुआत के साथ ही कार बम विस्फोटों का पदार्पण भी उसी के आतंकियों द्वारा किया गया है।

वेबदुनिया पर पढ़ें

अगला लेख महाराष्ट्र के पालघर में मंदिर में लूट, पुजारी पर हमला