Webdunia - Bharat's app for daily news and videos

Install App

Select Your Language

Notifications

webdunia
webdunia
webdunia
webdunia
Advertiesment

पाकिस्तान की ड्रोन वाली साजिश नाकाम, 5 किलो IED भी बरामद

हमें फॉलो करें webdunia

सुरेश एस डुग्गर

शुक्रवार, 23 जुलाई 2021 (09:04 IST)
मुख्य बिंदु
  • सुरक्षाबलों ने पाकिस्तानी ड्रोन को मार गिराया
  • ड्रोन से बंधी थी 5 किलो IED
  • पुलिस व सुरक्षाबलों की मदद से सर्च ऑपरेशन  
  • 21 दिनों के दौरान 10वीं बार नजर आया पाकिस्तानी ड्रोन
जम्मू। सुरक्षाबलों ने देर रात अखनूर के कानाचक्क सेक्टर के सीमांत इलाके गुड़ा पट्टन में एक पाकिस्तानी ड्रोन को मार गिराया है। इस पाकिस्तानी ड्रोन में 5 किलो आईईडी बंधी हुई थी। पुलिस ने ड्रोन व उसके साथ बांधी गई आईईडी को बरामद कर लिया है। आसपास के इलाके में पुलिस व सुरक्षाबलों की मदद से सर्च आप्रेशन भी चलाया जा रहा है।
 
अखनूर के कानाचक्क सेक्टर में सीमा से सटे गुड़ा पट्टन में रात के अंधेरे में ड्रोन को उड़ते हुए देखा गया। काले रंग का होने की वजह से यह ड्रोन बड़ी मुश्किल से नजर आ रहा था। परंतु सुरक्षा में तैनात पुलिस जवानों की नजर इस ड्रोन पर पड़ गई। जैसे ही यह ड्रोन नजदीक आया, जवानों ने गोली चलाकर इसे क्षतिग्रस्त कर जमीन पर गिरा दिया।
 
पास जाकर जब पुलिस ने इस ड्रोन की जांच की तो इसके साथ छोटे-छोटे पैकेट टेप की मदद से बांधे हुए थे। जांच करने पर पाया गया कि वह आईईडी है जिसका वजन 5 किलो के करीब होगा। पुलिस ने तुरंत ड्रोन व आइईडी को अपने कब्जे में ले लिया।
 
webdunia
डीएसपी वरुण जंडियाल ने इसकी पुष्टि करते हुए कहा कि ड्रोन की मदद से इस आईईडी को आतंकियों तक पहुंचाया जाना था। ड्रोन मिलने के तुरंत बाद ही सेना व पुलिस की मदद से कानाचक्क सेक्टर में सर्च आप्रेशन शुरू कर दिया गया है। सुरक्षाबलों का मानना है कि यह आईईडी जिन लोगों तक पहुंचाई जानी थी, वे आसपास के इलाके में ही मौजूद हो सकते हैं।
 
जानकारी के लिए पिछले 21 दिनों के दौरान जम्मू व सांबा जिला में पाकिस्तानी ड्रोन की यह 10वीं घटना है। हालांकि इससे पहले 9 दफा सीमांत इलाकों में ड्रोन को घूमते हुए देखा गया है। गत बुधवार को भी पाकिस्तानी ड्रोन को जम्मू एयरफोर्स स्टेशन पर दो बार मंडराते हुए देखा गया था।
 
पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार पिछले काफी दिनों से जम्मू जिला के सीमांत इलाकों में पाकिस्तानी ड्रोन के देखे जाने के मामले में बढ़ोतरी हुई है।
 
खुफिया एजेंसियां भी लगातार इस बात का संकेत दे रहीं थी कि पाकिस्तानी सेना की मदद से आतंकी जम्मू व श्रीनगर में स्वतंत्रता दिवस पर किसी बड़े हमले की फिराक में हैं। यही वजह है कि सुरक्षाबलों के साथ-साथ पुलिस जवानों को भी सतर्क रहने की हिदायत दी गई है।

Share this Story:

Follow Webdunia Hindi

अगला लेख

1 अगस्त से बदलेंगे रोजमर्रा से जुड़े ये नियम, जानिए आप पर क्या होगा असर