झारखंड की रैली में राममंदिर पर बोले PM नरेन्द्र मोदी

सोमवार, 25 नवंबर 2019 (13:51 IST)
रांची। अयोध्या मामले में सुप्रीम कोर्ट के फैसले से पहले भाजपा नेताओं को इस मुद्दे पर नहीं बोलने की नसीहत देने वाले पीएम नरेन्द्र मोदी राम जन्मभूमि मामले में सोमवार को खुलकर बोला और कांग्रेस पर निशाना साधा। उन्होंने कहा कि कांग्रेस ने इस मुद्दे को लटकाए रखा।
 
झारखंड के डाल्टनगंज में चुनावी रैली में कांग्रेस पर निशाना साधते हुए सोमवार को कहा कि भगवान राम की जन्मभूमि, अयोध्या का विवाद भी कांग्रेस ने दशकों से लटकाया हुआ था। कांग्रेस अगर चाहती तो उसका समाधान निकाल सकती थी। दरअसल, ऐसा इसलिए नहीं हुआ क्योंकि कांग्रेस हमेशा अपने वोटबैंक की परवाह की। इसी सोच से देश और समाज का नुकसान हुआ है।
 
कांग्रेस ने 370 को भी लटकाया : कश्मीर के अनुच्छेद 370 का उल्लेख करते हुए पीएम ने कहा कि कांग्रेस और उसके साथी दलों ने आर्टिकल 370 का मामला लटकाकर छोड़ा हुआ था।
जम्मू-कश्मीर की सुरक्षा के लिए यहां के अनेक वीर जवानों को बलिदान देना पड़ा। इन सबके जिम्मेदार हैं कांग्रेस और उसके सहयोगी दल। लेकिन, भाजपा ने 370 हटाकर अपने वादे को पूरा किया है।
 
मोदी ने कहा कि किसान की मेहनत, सपने और उसकी गरिमा क्या होती है, ये भाजपा समझती है। उत्तर कोयल जलाशय योजना करीब 40 साल से अटकी हुई थी। तब जो सत्ता में थे, उन्होंने परियोजना को पूरा करने के लिए कभी गंभीर कोशिश ही नहीं की। मगर दिल्ली और रांची में भाजपा की सरकार बनने के बाद इस प्रोजेक्ट से जुड़ी समस्याओं का समाधान किया गया।
 
अटल ने दिया झारखंड : प्रधानमंत्री ने कहा कि अटलजी ने आदिवासी, पिछड़े, वंचित समाज को झारखंड दिया था। इसी कमिटमेंट के कारण उन्होंने पहली बार अलग से जनजातीय मंत्रालय बनाया ताकि जंगलों में रहने वाले हर साथी की समस्याओं का समाधान हो सके।

उन्होंने कहा कि भाजपा ने जो भी वादे किए थे, वो एक के बाद एक ज़मीन पर उतारे हैं। दूसरी तरफ कांग्रेस और उसके साथी हैं, जो सिर्फ रेवड़ियां बांटना जानते हैं। उनके पास समस्याएं हैं, हमारे पास समाधान हैं। 
 
उन्होंने कहा कि ये चुनाव सिर्फ दलों के बीच का नहीं है, बल्कि झारखंड को लूटने वालों और झारखंड के लोगों की सेवा करने वालों के बीच है। ये चुनाव दो कार्य संस्कृतियों के बीच का है, दो धाराओं के बीच का है।

वेबदुनिया पर पढ़ें

अगला लेख फडणवीस को NCP के सभी 54 विधायकों का समर्थन, मेहता ने सुप्रीम कोर्ट में कहा