Webdunia - Bharat's app for daily news and videos

Install App

Select Your Language

Notifications

webdunia
webdunia
webdunia
webdunia
Advertiesment

भाजपा को लेकर प्रशांत किशोर का बड़ा बयान, राहुल गांधी पर कसा तंज

हमें फॉलो करें webdunia
शुक्रवार, 29 अक्टूबर 2021 (00:13 IST)
पणजी। चुनाव रणनीतिकार प्रशांत किशोर ने कहा कि भारतीय जनता पार्टी भारतीय राजनीति के केन्द्र में रहेगी और अगले कई दशकों तक यह कहीं जाने वाली नहीं है, चाहे वह जीते या हारे। गोवा में होने वाले विधानसभा चुनाव में तृणमूल कांग्रेस (टीएमसी) की जीत की रणनीति तैयार कर रहे किशोर ने कांग्रेस नेता राहुल गांधी की इस सोच के लिए उन पर तंज किया कि लोग भाजपा को तत्काल उखाड़ फेंकेंगे।

एक वीडियो वायरल हुआ है जिसमें किशोर गोवा में एक निजी बैठक को संबोधित करते नजर आ रहे हैं। ‘इंडियन पॉलिटिकल एक्शन कमेटी’ (आई-पीएसी) के एक वरिष्ठ नेता ने इस बात की पुष्टि की कि यह वीडियो बुधवार को हुई एक निजी बैठक का है। किशोर आई-पीएसी के प्रमुख हैं।

इस बयान पर प्रतिक्रिया जताते हुए कांग्रेस ने टीएमसी पर आरोप लगाया कि वह राज्य की राजनीति में इसलिए प्रवेश कर रही है ताकि धर्मनिरपेक्ष वोटों को बांट सके और सत्तारूढ़ भाजपा को फायदा पहुंचा सकें। साथ ही पार्टी ने आरोप लगाया कि किशोर के बयान से ममता बनर्जी नीत पार्टी के एजेंडा का भंडाफोड़ हुआ है।

इस वीडियो में किशोर यह कहते नजर आ रहे हैं कि  भारतीय जनता पार्टी चाहे जीते या हारे, वह राजनीति के केन्द्र में रहेगी, जैसा कि पहले 40 वर्षों में कांग्रेस के लिए था, भाजपा कहीं नहीं जा रही है। उन्होंने कहा, भारत के स्तर पर एक बार आप 30 प्रतिशत से अधिक वोट हासिल कर लें, तो फिर आप जल्दी कहीं नहीं जाने वाले। इसलिए इस जाल में कभी मत फंसना कि लोग मोदी (प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी) से नाराज हैं और वे उन्हें उखाड़ फेकेंगे।

किशोर ने कहा, हो सकता है कि वे मोदी को हटा दें, लेकिन भाजपा कहीं नहीं जा रही। वे यहीं रहेंगे, आपको अगले कई दशकों तक इसके लिए लड़ना होगा। यह जल्दी नहीं होगा। चुनाव रणनीतिकार ने कांग्रेस नेता राहुल गांधी का जिक्र करते हुए कहा, राहुल गांधी के साथ समस्या यही है। शायद वह सोचते हैं कि यह कुछ ही दिनों की बात है कि लोग उन्हें (मोदी को) नकार देंगे। ऐसा नहीं होने जा रहा है।

गौरतलब है कि किशोर ने इस वर्ष पश्चिम बंगाल और तमिलनाडु में हुए विधानसभा चुनावों में तृणमूल कांग्रेस और द्रमुक के लिए जीत की रणनीति तैयार की थी और दोनों ही दलों ने अपने-अपने राज्यों में जीत दर्ज की थी।गोवा में अगले वर्ष फरवरी में चुनाव होने वाले हैं और तृणमूल कांग्रेस ने कहा है कि वह चुनाव में अपने प्रत्याशी उतारेगी।

किशोर के बयान के बाद टीएमसी की आलोचना करते हुए गोवा प्रदेश कांग्रेस समिति के प्रमुख गिरिश चोडांकर ने कहा, पिछले एक महीने से टीएमसी गोवा में आई है। मैंने हमेशा कहा है कि टीएमसी को गोवा भेजने में अमित शाह और प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) का हाथ है।

अब उनके रणनीतिकार जिनकी सेवा पैसे का भुगतान करके ली गई है, उन्होंने आशंकाओं की पुष्टि की है और कहा है कि भाजपा यहां रूकेगी। टीएमसी वोटों का बंटवारा करने आई है। टीएमसी के एजेंडा का भंडाफोड़ हो गया है। बाद में उन्होंने एक बयान जारी किया जिसमें उन्होंने कहा कि वह बार-बार कहते रहे हैं कि अमित शाह और ईडी का टीएमसी के ‘ऑपरेशन गोवा’ में हाथ है, ताकि धर्मनिरपेक्ष वोट बंट जाए और भाजपा को फायदा मिल जाए।

कांग्रेस नेता ने कहा, प्रशांत किशोर न तो नेता हैं न ही उनकी कोई विचारधारा है। जो भी पैसे का भुगतान कर उनकी सेवा लेता है, वह उसके साथ काम करते हैं। उन्होंने कहा कि राहुल गांधी पर प्रहार इस बात को साबित करता है।

कांग्रेस की एक अन्य स्थानीय नेता राखी प्रभुदेसाई नाईक ने ट्वीट कर कहा, अगर टीएमसी के रणनीतिकार सोचते हैं कि भाजपा कहीं नहीं जा रही है तो उनकी पार्टी को बोरिया-बिस्तर बांधकर गोवा छोड़ देना चाहिए। वोट बांटने के बजाए उन्हें पश्चिम बंगाल जाना चाहिए। नहीं तो इससे पुष्टि होती है कि यहां उनकी मौजूदगी भाजपा का खेल है।(भाषा) 

Share this Story:

Follow Webdunia Hindi

अगला लेख

संयुक्त राष्ट्र जलवायु सम्मेलन में हिस्सा लेंगे अल्मोड़ा के भाई-बहन