सतह से हवा में मार करने में सक्षम त्वरित प्रक्रिया मिसाइल का सफल परीक्षण

रविवार, 4 अगस्त 2019 (20:30 IST)
बालासोर। भारत ने ओडिशा के परीक्षण केंद्र से एक परिष्कृत मिसाइल का रविवार को परीक्षण किया। सतह से हवा में मार करने में सक्षम त्वरित प्रक्रिया मिसाइल (क्यूआरएसएएम) को प्रत्येक मौसम तथा प्रत्येक इलाके में इस्तेमाल हो सकने के लिहाज से तैयार किया गया है।
इस अत्याधुनिक मिसाइल को रक्षा अनुसंधान एवं विकास संगठन (DRDO) ने भारतीय सेना के लिए विकसित किया है। डीआरडीओ ने कहा कि वायु रक्षा तंत्र (क्यूआरएसएएम) का यहां के चांदीपुर के एकीकृत परीक्षण केंद्र (आईटीआर) से सुबह 11 बजकर 5 मिनट पर परीक्षण किया गया।
 
DRDO ने बताया कि प्रत्येक मौसम एवं प्रत्येक क्षेत्र में मार कर सकने में सक्षम इस मिसाइल को एक ट्रक के ऊपर लगाया जा सकता है और यह एक कनस्तर में समा सकती है। 
ये सिस्टम स्वदेशी रूप से विकसित चरणबद्ध सरणी रडार, इनर्टियल नेविगेशन सिस्टम, डेटा लिंक और आरएफ साधक से लैस हैं। यह सिस्टम भारतीय सेना के लिए तैयार किया जा रहा है, जो कम समय में गतिविधियों को कम समय में देख सकेगा।
 
यह मिशन इलेक्ट्रो ऑप्टिकल ट्रैकिंग सिस्टम, रडार सिस्टम और टेलीमेट्री सिस्टम को कैप्चर करेगा। इसका अनुसंधान ITR चांदीपुर में चल रहा है।
 
ये सिस्टम स्वदेशी रूप से विकसित चरणबद्ध सरणी रडार, इनर्टियल नेविगेशन सिस्टम, डेटा लिंक और आरएफ साधक से लैस हैं। यह सिस्टम भारतीय सेना के लिए तैयार किया जा रहा है, जो कम समय में गतिविधियों को कम समय में देख सकेगा।
 
यह मिशन इलेक्ट्रो ऑप्टिकल ट्रैकिंग सिस्टम, रडार सिस्टम और टेलीमेट्री सिस्टम को कैप्चर करेगा। इसका अनुसंधान ITR चांदीपुर में चल रहा है।
 

वेबदुनिया पर पढ़ें

अगला लेख जापान के फुकुशिमा प्रशांत अपतटीय क्षेत्र में 6.3 तीव्रता का भूकंप, सुनामी का खतरा नहीं