लोकसभा चुनाव से पहले मोदी सरकार ने चला सवर्ण आरक्षण का दांव, जानिए इस विधेयक से जुड़ी 10 खास बातें...

मंगलवार, 8 जनवरी 2019 (23:22 IST)
नई दिल्ली। मोदी सरकार ने लोकसभा चुनाव से पहले सवर्ण आरक्षण के रूप में जो दांव चला है, इससे देश की 95 फीसदी आबादी को फायदा होने की उम्मीद है। विधेयक से जुड़ी 10 खास बातें... 
 
1. अगर लोकसभा की तरह ही राज्यसभा में यह बिल दो तिहाई बहुमत से पास हो जाता है तो सवर्ण आरक्षण का फायदा हिंदुओं के साथ ही सभी धर्मों के लोगों को मिलेगा। 
2. इस बिल के पास होने से आर्थिक रूप से गरीबों को फायदा होगा। इसके लिए आय 8 लाख रुपए से कम होना चाहिए। इस आरक्षण का फायदा उठाने वाले के पास 5 एकड़ से कम जमीन होना चाहिए। 
3. मोदी सरकार ने सरकारी नौकरियों के साथ ही शिक्षण संस्थानों में भी 10 फीसदी आरक्षण का प्रावधान किया है। 
4. सवर्ण आरक्षण बिल पर भाजपा के दांव में कांग्रेस समेत सभी विपक्षी दल उलझ कर रह गए। उन्होंने सरकार का समर्थन तो किया लेकिन बेहद अनमने मन से इस मामले में वह सरकार के साथ थे। 
5.  देश की लगभग 100 लोकसभा सीटों पर इसका फायदा भाजपा को मिल सकता है। 
 
6. लोकसभा में इस बिल को 323 सांसदों का समर्थन मिला। केवल 3 सांसदों ने बिल का विरोध किया। 
7. इस बिल को बुधवार को ही राज्यसभा में पेश किया जाएगा। इसके लिए राज्यसभा में सत्र को एक दिन के लिए आगे बढ़ाया गया है।
8. मोदी सरकार ने इस बिल को सामाजिक बराबरी की दिशा में एक बड़ा कदम बताया है। 
9. बिल पर चर्चा के दौरान भाजपा सांसद निशिकांत दुबे ने कहा कि मोदी सरकार का यह कदम ‘सबका साथ, सबका विकास’ के मंत्र के साथ उठाया गया है और सामान्य वर्ग के गरीबों के घर पर इस कारण से दिवाली मनाई जा रही है।
10. भाजपा सांसद नंद कुमार चौहान ने कहा कि सामान्य वर्ग के गरीब लोग हमसे पूछते थे कि हमारा क्या हुआ? अब सामान्य वर्ग के आर्थिक रूप से कमजोर लोगों को आरक्षण मिलेगा।

वेबदुनिया पर पढ़ें

सम्बंधित जानकारी

विज्ञापन
जीवनसंगी की तलाश है? तो आज ही भारत मैट्रिमोनी पर रजिस्टर करें- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन!

अगला लेख मोदी सरकार को बड़ी सफलता, लोकसभा में पास हुआ सवर्ण आरक्षण बिल