राहुल गांधी ने प्रवासी मजदूरों से मुलाकात कर जाना उनका दर्द

शनिवार, 16 मई 2020 (19:56 IST)
नई दिल्ली। कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने शनिवार को दिल्ली में प्रवासी श्रमिकों से मुलाकात करके उनकी स्थितियों के बारे में जानकारी ली।
 
कांग्रेस सूत्रों के मुताबिक गांधी ने शाम के समय सुखेदव विहार इलाके के फ्लाईआवेर के निकट मजदूरों से मुलाकात की और उनसे करीब 1 घंटे तक बातचीत की।
 
सूत्रों का कहना है कि राहुल गांधी की श्रमिकों के साथ बातचीत के दौरान सामाजिक दूरी का खयाल रखा गया था।
 
कांग्रेस का दावा है कि राहुल गांधी ने जिन श्रमिकों से मुलाकात की उनको पुलिस ने हिरासत में ले लिया। हालांकि पुलिस सूत्रों ने कहा कि यह सूचना गलत है कि राहुल गांधी से मिलने वाले प्रवासियों को पुलिस ने हिरासत में लिया था। प्रवासियों को अभी भी मौके पर रखा गया है, नियमों के अनुसार उन्हें बड़े समूह के रूप में वाहन पर चढ़ने की अनुमति नहीं है, जिसकी पेशकश कांग्रेस कार्यकर्ताओं द्वारा की गई थी।
 
पार्टी प्रवक्ता गौरव वल्लभ ने कहा कि सरकार को इस बात का डर है कि कहीं प्रवासी श्रमिक अपने घर जाकर लोगों से उसकी सच्चाई न बताएं। हमारा कहना है कि झूठ को जितना दबाया जाएगा वो बाहर आएगा। 
 
एक प्रवासी मजदूर ने कहा कि राहुल गांधी हमसे आधे घंटे पहले मिले। हम हरियाणा से पैदल आए हैं। उन्होंने हमें गाड़ी उपलब्ध कराई। उन्होंने कहा कि ये गाड़ी हमें हमारे घरों तक छोड़ देगा। उन्होंने हमें भोजन, पानी और मास्क भी दिया।

वेबदुनिया पर पढ़ें

अगला लेख सभी महिला फुटबॉलरों के लिए प्रेरक है बाला देवी : प्रफुल्ल पटेल