राजनाथ का बड़ा बयान, किसी को आमंत्रित करना राज्यपाल का विशेषाधिकार

शनिवार, 23 नवंबर 2019 (18:38 IST)
लखनऊ। महाराष्ट्र में शिवसेना—राकांपा और कांग्रेस के बीच उद्धव ठाकरे को मुख्यमंत्री बनाने को लेकर सहमति बनने के बाद नाटकीय ढंग से देवेन्द्र फड़णवीस के मुख्यमंत्री और अजित पवार के उपमुख्यमंत्री पद की शपथ लेने के बीच रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने शनिवार को कहा कि यह राज्यपाल का विशेषाधिकार है कि वह किसे आमंत्रित करते हैं।

ALSO READ: महाराष्‍ट्र में राजनीतिक संग्राम : 11 में से 7 विधायक NCP में लौटे, नहीं माने अजीत पवार
राजनाथ से एक कार्यक्रम से इतर जब संवाददाताओं ने महाराष्ट्र में सरकार गठन को लेकर सवाल किया तो उन्होंने कहा, 'इस समय जिस कार्यक्रम में यहां पर आया हूं, कोई राजनीतिक बात नहीं कहना चाहता। यह राज्यपाल का विशेषाधिकार था। संतुष्ट होने पर राज्यपाल को जिसे आमंत्रित करना था, उन्होंने आमंत्रित किया।'

ALSO READ: Maharashtra में बड़ा राजनीतिक उलटफेर, जानिए 10 बड़ी बातें
बाद में, राजनाथ ने ट्वीट कर फड़णवीस और पवार को बधाई दी। उन्होंने कहा, 'मुझे पूरा विश्वास है कि वे राज्य की प्रगति और संपन्नता के लिए मिलकर कार्य करेंगे।'
 

वेबदुनिया पर पढ़ें

अगला लेख फिर बोले गडकरी, क्रिकेट और राजनीति में कुछ भी हो सकता है