Webdunia - Bharat's app for daily news and videos

Install App

Select Your Language

Notifications

webdunia
webdunia
webdunia
webdunia
Advertiesment

कौन है ‘हनी एंड मिल्‍क’ कविता लिखकर विवादों में आई रूपी कौर?

webdunia
  • facebook
  • twitter
  • whatsapp
share
रविवार, 28 मार्च 2021 (16:08 IST)
युवाओं के बीच लोकप्रिय और विवादास्पद कविता को लेकर चर्चा में रहने वाली रूपी कौर पर अश्लीलता का आरोप लगा है। भारतीय मूल की कनाडा निवासी इस शायरा का सोशल मीडिया पर एक वीडियो वायरल हो रहा है। अपने पहले संग्रह 'हनी एंड मिल्क' यानी 'शहद और दूध' से चंद पंक्तियों का पाठ करते हुए उन्होंने वीडियो पोस्ट किया है। उनका कविता पाठ करने का अंदाज बिल्कुल जुदा है।

वीडियो में देखा जा सकता है रूपी झूमते और अपनी उंगलि‍यों को लहराते कविता पाठ कर रही हैं। कविता की पंक्तियों का अर्थ कुछ इस तरह है, "तुम्हें पता था तुम गलत थे, जब मेरे अंदर डूबी तुम्हारी उंगलियां उस शहद को तलाश कर रही थीं जो तुम्हारे लिए निकल न सका" वीडियो सामने आने के बाद रूपी कौर के कविता पाठ और शायरी दोनों पर 'बेबाक' कहते हुए आलोचना होने लगी।

सोशल मीडिया पर रूपी कौर के खिलाफ जबरदस्त रिएक्शन देखने को मिल रहा है। लोग फोटो, मीम्स, वीडियो और पोस्ट के जरिए अलग-अलग अंदाज से जवाब देने में जुट गए हैं। कुछ यूजर ने इस वीडियो के लिए रूपी कौर को जेल भेजने तक की मांग कर डाली।

हालांकि, ऐसा नहीं है कि रूपी कौर की हर कोई आलोचना कर रहा है, बल्कि कुछ यूजर ने अपना समर्थन भी दिया है। उनका कहना है कि रूपी कौर के काम का मजाक उड़ाना बंद होना चाहिए। ये असभ्य और गैर जरूरी है।

28 वर्षीय शायरा की विशेषता आसान भाषा में अपनी भावनाओं को व्यक्त करने की है। उनकी कविता का फोकस महिलाओं से जुड़े संवेदनशील मुद्दे और लैंगिक भेदभाव पर रहता है। युवाओं के बीच जहां उनकी कविता काफी पसंद की जाती है, वहीं कुछ लोग उन पर 'अश्लील और बेबाक' होने का भी आरोप लगाते हैं। उनकी कविता की आलोचना इसलिए भी की जाती है क्योंकि उसका कोई अर्थ नहीं होता और कविता के मानक पर खरा नहीं उतरती। इसके बावजूद, शहद और दूध कविता संग्रह की प्रतियां 30 लाख से ज्यादा बिक चुकी हैं।

Share this Story:
  • facebook
  • twitter
  • whatsapp

Follow Webdunia Hindi

अगला लेख

webdunia
सार्वजनिक होली कार्यक्रमों में शामिल नहीं होंगे केजरीवाल, लोगों से भीड़भाड़ से बचने की अपील की