रूस ने भारत के मानवयुक्त अंतरिक्ष अभियान के लिए सहयोग की पेशकश की

शनिवार, 6 अक्टूबर 2018 (00:00 IST)
नई दिल्ली। रूस ने भारत के 2022 तक मानवयुक्त अंतरिक्ष अभियान पूरा करने की कोशिशों में सहयोग करने की शुक्रवार को पेशकश की।
 
 
प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने रूसी राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन के साथ यहां बातचीत के बाद उनकी मौजूदगी में दिए गए एक बयान में कहा कि रूस, भारत के विकास के सफर में हमेशा से साथ खड़ा रहा है। अंतरिक्ष के सफर में हमारा अगला लक्ष्य एक भारतीय अंतरिक्ष यात्री को 'गगनयान' के जरिए भेजना है। मुझे बहुत खुशी है कि आपने (पुतिन) इस अभियान में रूस के पूर्ण सहयोग का आश्वासन दिया है।
 
दोनों देशों ने मानव अंतरिक्ष कार्यक्रम के क्षेत्र में संयुक्त गतिविधियों को लेकर एक समझौते पर हस्ताक्षर भी किए। भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन (इसरो) और फेडरल स्पेस एजेंसी ऑफ रशिया (रॉसकॉसमॉस) ने शुक्रवार को सहमति ज्ञापन पर हस्ताक्षर किए।
 
मोदी ने इस साल स्वतत्रंता दिवस पर अपने संबोधन में 2022 तक एक भारतीय अंतरिक्ष यात्री को अंतरिक्ष में भेजने की महत्वाकांक्षी अभियान की घोषणा की थी। (भाषा)

वेबदुनिया पर पढ़ें

सम्बंधित जानकारी

विज्ञापन
जीवनसंगी की तलाश है? तो आज ही भारत मैट्रिमोनी पर रजिस्टर करें- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन!

LOADING