सबरीमाला मंदिर में महिलाओं के प्रवेश के बाद बवाल, हिंसा में एक की मौत

गुरुवार, 3 जनवरी 2019 (12:55 IST)
तिरुवनंतपुरम। सबरीमाला मंदिर में बुधवार को दो युवा महिलाओं के प्रवेश के बाद राज्य में बवाल खड़ा हो गया है। इस बीच, बुधवार को हुए प्रदर्शन के दौरान घायल एक व्यक्ति की गुरुवार को मौत हो गई। 
 
उल्लेखनीय है कि बिन्दु और कनकदुर्गा नामक महिलाओं के प्रवेश के बाद राज्य में विरोध प्रदर्शन और हड़ताल का व्यापक असर देखने को मिला। इसके साथ ही बुधवार को हुए विरोध प्रदर्शन और झड़प के दौरान घायल हिन्दू संगठन के कार्यकर्ता की पंडलम में मौत हो गई। हिंसा के आरोप में पुलिस ने दो लोगों को हिरासत में लिया है। 
 
हिंदूवादी संगठनों के समूह 'सबरीमाला कर्म समिति' ने हड़ताल का आह्वान किया है। भाजपा भी इस हड़ताल का समर्थन कर रही है, जबकि कांग्रेस के नेतृत्व वाला यूडीएफ काला दिवस मना रहा है। 
 
हिंसा से सख्ती से निपटेंगे : केरल के मुख्यमंत्री पी. विजयन ने सबरीमाला विवाद पर भाजपा और आरएसएस पर हमला बोला और कहा कि उन्होंने जो हिंसा शुरू की है उससे सख्ती से निपटा जाएगा। 
 
उन्होंने कहा कि सबरीमाला मंदिर में प्रवेश करने वाली कनकदुर्गा और बिंदू ने मंदिर जाने के लिए सुरक्षा मांगी थी, जिसके बाद उन्हें सुरक्षा प्रदान की गई। विजयन ने कहा कि सबरीमाला मंदिर में महिलाओं के प्रवेश के नाम पर हड़ताल करना उच्चतम न्यायालय के आदेश के खिलाफ हड़ताल करने जैसा है।

वेबदुनिया पर पढ़ें

सम्बंधित जानकारी

विज्ञापन
जीवनसंगी की तलाश है? तो आज ही भारत मैट्रिमोनी पर रजिस्टर करें- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन!

अगला लेख घने कोहरे के कारण 2 घंटे तक उड़ान नहीं भर सके विमान