Select Your Language

Notifications

webdunia
webdunia
webdunia
webdunia
Advertiesment

बड़ी खबर, SBI ने 11 माह में 9वीं बार घटाई MCLR

webdunia
शुक्रवार, 7 फ़रवरी 2020 (11:14 IST)
मुंबई। भारतीय स्टेट बैंक (SBI) ने सभी परिपक्वता अवधि के ऋण पर सीमांत कोष की लागत आधारित ब्याज दर (MCLR) में 0.05 प्रतिशत की कटौती करने की शुक्रवार को घोषणा की। नई दरें 10 फरवरी से प्रभावी होंगी। बैंक द्वारा चालू वित्त वर्ष में एमसीएलआर में यह लगातार नौवीं कटौती है।
 
बैंक ने एक बयान में कहा कि इस कटौती के बाद एक साल की परिपक्वता अवधि वाले ऋण का एमसीएलआर कम होकर 7.85 प्रतिशत पर आ गया है। बैंक ने रिजर्व बैंक की मौद्रिक नीति समीक्षा बैठक के नतीजों की घोषणा के एक दिन बाद एमसीएलआर में यह कटौती की है।

एसबीआई ने कहा कि उसने बैंकिंग प्रणाली में तरलता की अधिकता को देखते हुए दो करोड़ रुपए से कम के खुदरा जमा तथा दो करोड़ रुपए से अधिक के थोक जमा की ब्याज दरों में भी संशोधन किया है। खुदरा जमा के लिए ब्याज दर में 0.1 से 0.5 प्रतिशत तक की तथा थोक जमा में 0.25 प्रतिशत से 0.50 प्रतिशत तक की कटौती की गई है।
 
रिजर्व बैंक ने बैठक के बाद रेपो दर को 5.15 प्रतिशत पर यथावत बनाये रखा। हालांकि केंद्रीय बैंक ने एक लाख करोड़ रुपए तक की राशि के लिए दीर्घकालिक रेपो की घोषणा की। इससे वाणिज्यिक बैंकों के लिए कर्ज जुटाना सस्ता हो गया।

Share this Story:

Follow Webdunia Hindi

अगला लेख

बड़ा खुलासा : 'अर्बन हीट आइलैंड' में तब्दील हो रहे हैं अधिकांश भारतीय शहर