JNU छात्र शरजील इमाम अदालत में पेश, वकीलों ने लगाए नारे

बुधवार, 29 जनवरी 2020 (19:03 IST)
नई दिल्ली। देशद्रोह के आरोप में गिरफ्तार शरजील इमाम को राजधानी दिल्ली की साकेत अदालत में दिल्ली पुलिस ने बुधवार को पेश किया। 
 
जामिया मिल्लिया इस्लामिया और अलीगढ़ में कथित तौर पर भड़काऊ भाषण देने को लेकर मंगलवार को बिहार के जहांनाबाद से पुलिस ने उसे गिरफ्तार किया था। शरजील राजद्रोह का मामला दर्ज किए जाने के बाद से फरार था। दिल्ली पुलिस ने शरजील के खिलाफ 25 जनवरी को मामला दर्ज किया था।
 
जिस समय शरजील को अदालत में पेश किया गया, कुछ वकीलों ने उसके खिलाफ नारेबाजी की और उनके हाथों में मौजूद पोस्टरों में उसे 'देशद्रोही' कहा गया था। उन्होंने उसे फांसी देने की मांग की। अदालत परिसर के बाहर सुरक्षा के सख्त इंतजाम किए गए।
 
एक वकील ने कहा कि हम यहां शरजील के खिलाफ प्रदर्शन करने के लिए हैं जो देश को तोड़ने की बात करता है। सभी वकील ऐसे देशद्रोहियों के खिलाफ एकजुट हैं। उसे जेल से बाहर रहने का हक नहीं है। उसके खिलाफ कड़ी कार्रवाई करनी चाहिए।
 
प्रदर्शन कर रहे एक वकील ने कहा, ''हम यहां उसके खिलाफ प्रदर्शन करने के लिए हैं जो देश को तोड़ने की बात करता है। सभी वकील ऐसे देशद्रोहियों के खिलाफ एकजुट हैं। उसे जेल से बाहर रहने का हक नहीं है। उसके खिलाफ कड़ी कार्रवाई करनी चाहिए।"
 
क्या कहा था शरजील ने : 16 जनवरी के एक ऑडियो क्लिप में इमाम को यह कहते हुए सुना गया कि असम को भारत के शेष हिस्से से काटना चाहिए और सबक सिखाना चाहिए क्योंकि वहां बंगाली हिंदुओं और मुस्लिम दोनों की हत्या की जा रही है।

वेबदुनिया पर पढ़ें

अगला लेख शिवसेना ने लगाया केंद्र सरकार पर महाराष्ट्र के मामलों में हस्तक्षेप का आरोप