पुलवामा में तीन आतंकवादी ढेर, एक जवान शहीद, मुठभेड़ जारी

जम्मू। कश्मीर में पुलवामा के त्राल इलाके में आतंकियों और सुरक्षाबलों के बीच गुरुवार सुबह मुठभेड़ में तीन आतंकी मारे गए तथा एक जवान भी शहीद हो गया। सूत्रों की मानें तो इस मुठभेड़ में अभी भी तीन आतंकी घिरे हुए थे। हालांकि अभी तक मारे गए आतंकियों के शवों को बरामद नहीं किया गया है।


इस मुठभेड़ में 3 सुरक्षाकर्मी घायल हो गए थे, एक की हालत गंभीर थी जिसने बाद में उधमपुर के कमांड अस्पताल में दम तोड़ दिया। 42 आरआर के जवान को पहले श्रीनगर बेस कैंप रेफर किया गया था। इसके साथ ही आतंकियों के मारे जाने की सूचना पर पत्थरबाजों और सुरक्षाबलों के बीच झड़प हो गई। जिसमें 7 पत्थरबाज भी घायल हुए हैं। इन आतंकियों के छिपे होने की सूचना सुरक्षाबलों को देर रात ही मिल गई थी। ऐसे में बुधवार रात से ही इन आतंकियों के खिलाफ सर्च ऑपरेशन जारी था। यह मुठभेड़ त्राल के गुलशनपोरा इलाके में चल रही है।

पुलवामा में पिछले करीब 10 दिनों से आए दिन सुरक्षाबलों और आतंकियों के बीच मुठभेड़ें हो रही हैं। यहां पर 28 दिसंबर को सुरक्षाबलों ने लश्कर के एक आतंकी को ढेर किया था तो इसके अगले ही दिन चार आतंकी मारे गए थे। इससे पहले 22 दिसंबर को पुलवामा में छह आतंकी मारे गए थे जो कि जाकिर मूसा के संगठन अंसार गजवात-उल-हिंद से जुड़े थे।

बर्फीले तूफान में जवान शहीद : दूसरी ओर जम्मू संभाग के पुंछ जिले में गुरुवार को एक हादसे में सेना के एक जवान की मौत हो गई जबकि दूसरा गंभीर रूप से घायल हो गया। यह हादसा गुरुवार सुबह आए बर्फीले तूफान के बाद हुआ। बर्फ की पहाड़ी का एक बड़ा टुकड़ा एलओसी के पास बनी सीमा चौकी पर गिर गया।

पुंछ में गुरुवार को बर्फीला तूफान आने से एलओसी पर बनी सेना की 40आरआर की चौकी चपेट में आ गईं जिसमें सेना का एक जवान शहीद हो गया, वहीं ड्यूटी पर तैनात दूसरा जवान गंभीर रूप से घायल है। पुंछ के मंडी थाने के एसएचओ अनिल शर्मा ने बताया कि गुरुवार सुबह बर्फीले तूफान में सीमा पर साबजियां सेक्टर में बनी फॉरवर्ड पोस्ट पर सेना के दो जवान इसकी चपेट में आ गए।

वेबदुनिया पर पढ़ें

सम्बंधित जानकारी

विज्ञापन
जीवनसंगी की तलाश है? तो आज ही भारत मैट्रिमोनी पर रजिस्टर करें- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन!

LOADING