Webdunia - Bharat's app for daily news and videos

Install App

Select Your Language

Notifications

webdunia
webdunia
webdunia
webdunia
Advertiesment

सरकार के इस कदम से सस्ती हुई प्याज की कीमत, 12 रुपए तक घट चुके हैं दाम

webdunia
बुधवार, 3 नवंबर 2021 (22:28 IST)
नई दिल्ली। केंद्र सरकार के उपभोक्ता मामलों, खाद्य एवं सार्वजनिक वितरण मंत्रालय ने बुधवार को कहा कि प्याज के खुदरा और थोक भाव पिछले साल इसी समय की तुलना में नीचे हैं। प्याज में आपूर्ति संतुलित रखने के लिए बफर स्टॉक का सहारा लिया जा रहा है।

सरकार ने सभी राज्यों और केंद्र शासित क्षेत्रों को 21 रुपए किलो की दर पर बफर स्टॉक से प्याज सुलभ कराने की पेशकश की है। मंत्रालय के अनुसार इस समय प्याज के अखिल भारतीय खुदरा और थोक भाव क्रमश: 40.13 रुपए प्रति किलोग्राम और 3215.92 रुपए प्रति क्विंटल हैं।

गौरतलब है कि कुछ इलाकों में बेमौसम की वर्षा के चलते प्याज के दाम अक्टूबर के पहले सप्ताह से चढ़ने लगे थे। मंत्रालय ने कीमतों को संतुलित रखने के लिए बफर स्टॉक से लक्षित और नपे-तुले ढंग से प्याज जारी करने का अभियान शुरू किया।

मंत्रालय ने कहा है कि उसने बफर स्टॉक अभियान चलाते समय कीमत को संतुलित रखने के साथ यह भी ध्यान दिया है कि स्टॉक में पड़े प्याज पर नुकसान कम से कम हो। इन कदमों से तीन नवंबर 2021 को प्याज का अखिल भारतीय खुदरा मूल्य 40.42 रुपए प्रति किलोग्राम और थोक मूल्य 3253.53 रुपए प्रति क्विंटल रहा।

सरकार ने बफर स्‍टॉक से दो नवंबर तक कुल 1,11,376.17 टन प्याज जारी किया था। बफर स्टाक का प्याज दिल्ली, कोलकाता, लखनऊ, हैदराबाद, बेंगलुरु, चेन्नई, मुंबई, चंडीगढ़, कोच्चि और रायपुर के बाजारों के लिए जारी किया गया। इसके अलावा महाराष्ट्र, मध्य प्रदेश और गुजरात की स्थानीय मंडियों में बफर की प्याज पहुंचाई गई है।

सरकार राज्यों को 21 रुपए किलो की दर से प्याज देने के साथ-साथ मदर डेयरी के सफल स्टोर को 26 रुपए प्रति किलो की दर से प्याज दे रही है और सफल ने 400 टन प्याज उठाया है। सरकार ने 2021-22 में अप्रैल-जुलाई के बीच 2.08 लाख टन प्याज का बफर स्टॉक बनाया, जबकि लक्ष्य दो लाख टन का था।

Share this Story:

Follow Webdunia Hindi

अगला लेख

मोदी सरकार का दिवाली तोहफा, एक झटके में 5 रुपए सस्ता पेट्रोल, डीजल में 10 रुपए की कटौती, कांग्रेस बोली वोट की चोट का असर