Select Your Language

Notifications

webdunia
webdunia
webdunia
webdunia
Advertiesment

किसान आंदोलन : सचिन, अक्षय और लता मंगेशकर के ट्‍वीट्‍स की होगी जांच

webdunia
  • facebook
  • twitter
  • whatsapp
share
सोमवार, 8 फ़रवरी 2021 (14:35 IST)
मुंबई। हाल ही में किसान आंदोलन को लेकर रिहाना और स्वीडन की पर्यावरण कार्यकर्ता ग्रेटा थनबर्ग के ट्‍वीट के जवाब में सचिन तेंदुलकर, लता मंगेशकर, अक्षय कुमार समेत कई अन्य फिल्मी हस्तियों द्वारा किए गए ट्‍वीट्‍स की महाराष्ट्र सरकार ने जांच के आदेश दिए हैं। 
 
दरअसल, कांग्रेस के कुछ नेताओं ने इन हस्तियों के किसान आंदोलन को लेकर किए गए ट्‍वीट्‍स की शिकायत की है। उनका आरोप है कि ट्वीट्स में कुछ शब्द एक जैसे हैं, जो संदेह पैदा करते हैं। महाराष्ट्र की उद्धव ठाकरे सरकार ने इस मामले की जांच के आदेश दे दिए हैं।
 
कांग्रेस प्रतिनिधिमंडल ने राज्य के गृहमंत्री अनिल देशमुख से ऑनलाइन मुलाकात की थी। कांग्रेस नेताओं का कहना था कि रिहाना के ट्वीट के बाद सचिन तेंदुलकर, लता मंगेशकर, विराट कोहली सहित कई बड़े सितारों ने जो ट्वीट किए हैं, उनमें कई शब्द कॉमन हैं। 
 
इस मामले में महाराष्ट्र सरकार यह जांच करेगी कि क्या इन ‍हस्तियों ने किसी के दबाव में आकर यह ट्‍वीट्‍स किए हैं। महाराष्ट्र का इंटेलिजेंस विभाग सितारों के ट्वीट की जांच करेगा।
 
उल्लेखनीय है कि भारत के गृहमंत्री अमित शाह ने विदेश मंत्रालय के बयान के साथ ट्वीट किया था। उन्होंने लिखा था कि कोई भी दुष्प्रचार भारत की एकता को नहीं तोड़ सकता। उन्होंने #IndiaAgainstPropaganda और #IndiaTogether का भी उपयोग किया था।

इन्हीं हैशटैग का उपयोग करते हुए सचिन ने लिखा था- भारत की संप्रभुता से समझौता नहीं किया जा सकता। भारत में जो भी हो रहा है बाहरी ताकतें उसकी दर्शक हो सकती हैं, लेकिन प्रतिभागी नहीं। इसी तरह लता मंगेशकर ने भी इन्हीं हैशटैग का उपयोग करते हुए ट्‍वीट किया था। 

Share this Story:
  • facebook
  • twitter
  • whatsapp

Follow Webdunia Hindi

अगला लेख

webdunia
‘स्वच्छ्ता का पंच’ इंदौर के लोगों के स्वास्थ्य और विकास के लिए जरूरी है