Webdunia - Bharat's app for daily news and videos

Install App

Select Your Language

Notifications

webdunia
webdunia
webdunia
webdunia
Advertiesment

क्यों US नहीं जा पा रहे हैं एयर इंडिया के विमान, जानिए इसका कारण

हमें फॉलो करें webdunia
गुरुवार, 20 जनवरी 2022 (09:04 IST)
नई दिल्ली। दुनिया के कई मुल्कों में नेक्स्ड जनरेशन 5जी नेटवर्क रोलआउट हो रहा है। भारत में भी साल 2022 के मध्य तक 5जी नेटवर्क रोलआउट हो सकता है। लेकिन इससे पहले 5जी नेटवर्क को लेकर कई तरह की चिंताएं जाहिर की जा रही हैं। ऐसा ही एक नया मामला सामने आया है जिसमें हवाई उड़ानों के लिए 5जी सी-बैंड नेटवर्क के इस्तेमाल को खतरनाक करार दिया गया है। 5जी सी-बैंड नेटवर्क के चलते एयर इंडिया समेत कई देश की विमानन कंपनियों को अमेरिका जाने वाली अपनी हवाई उड़ान रद्द करनी पड़ी हैं। इसकी वजह अमेरिका में 5जी सी-बैंड्स रोलआउट है।

 
फोर्ब्स की रिपोर्ट के मुताबिक इस हफ्ते अमेरिका में 5जी के सी-बैंड के रोलआउट होने से विमान के इलेक्ट्रॉनिक उपकरणों के सिग्नल रिसीव करने में बाधा आ सकती है। अमेरिकी विमानन नियामक संघीय उड्डयन प्रशासन की मानें तो 5जी सी-बैंड्स की वजह से एयरक्राफ्ट का रेडियो अल्टीमीटर इंजन और इंजन और ब्रेकिंग सिस्टम पर असर डाल सकता है जिससे प्लेन क्रैश होने की आशंका है।

 
अमेरिकी विमानन संघीय विमानन प्रशासन (एफएए) ने 14 जनवरी को कहा था कि विमान के रेडियो अल्टीमीटर पर 5जी के प्रभाव से इंजन और ब्रेकिंग प्रणाली रुक सकती है जिससे विमान को रनवे पर रोकने में दिक्कत आ सकती है। एयर इंडिया ने मंगलवार को ट्वीट कर कहा था कि अमेरिका में 5जी संचार सेवा लागू होने के कारण 19 जनवरी, 2022 से विमान के प्रकार में बदलाव के साथ भारत से अमेरिका के लिए हमारे संचालन में कटौती व संशोधन किया गया है। एयर इंडिया के अलावा कई अन्य विमानन कंपनियों ने भी घोषणा की है कि वे 5जी सेवा लागू होने के कारण अमेरिका में अपनी उड़ानें रद्द कर रही हैं।

Share this Story:

Follow Webdunia Hindi

अगला लेख

गणतंत्र दिवस के मद्देनजर दिल्ली की बढ़ी सुरक्षा, ड्रोन और पैराग्लाइडर के संचालन पर रहेगा प्रतिबंध