Webdunia - Bharat's app for daily news and videos

Install App

Select Your Language

Notifications

webdunia
webdunia
webdunia
webdunia
Advertiesment

नृसिंह जयंती 2022 : श्री नृसिंहदेव का पवित्र पर्व कब है, जानिए क्या करें इस दिन

हमें फॉलो करें webdunia
शुक्रवार, 13 मई 2022 (17:03 IST)
Narasimha Jayanti 2022: हिन्दू कैलेंडर के अनुसार प्रतिवर्ष वैशाख महीने के शुक्ल पक्ष की चतुर्दशी तिथि को नृसिंह जयंती मनाई जाती है। अंग्रेजी कैलेंडर के अनुसार इस वर्ष 14 मई 2022 शनिवार को मनाई जाएगी।
 
 
इस दिन क्या करें :
 
1. इस दिन संपूर्ण घर की साफ-सफाई करके, गंगाजल या गौमूत्र का छिड़काव कर पूरा घर पवित्र करें। इसके बाद स्नानादि से निवृत्त होकर पूजा की तैयारी करना चाहिए।
 
2. पूजा के स्थल को गोबर से लीपकर तथा कलश में तांबा इत्यादि डालकर उसमें अष्टदल कमल बनाना चाहिए। अष्टदल कमल पर सिंह, भगवान नृसिंह तथा लक्ष्मीजी की मूर्ति स्थापित करना चाहिए। इसके बाद वेदमंत्रों से इनकी प्राण-प्रतिष्ठा करना चाहिए। 
 
3. फिर इसके बाद भगवान नृसिंहदेव की षोडशोपचार पूजा करना चाहिए।
 
4. इस दिन व्रत रखकर उसका कड़ाई से पालन करना चाहिए। ब्रह्मचर्य का पालन करना, क्रोध, लोभ, मोह, झूठ, कुसंग तथा पापाचार का त्याग करना चाहिए।
 
5. पूजा के तत्पश्चात निम्न मंत्र बोले:-
नृसिंह देवदेवेश तव जन्मदिने शुभे।
उपवासं करिष्यामि सर्वभोगविवर्जितः॥
 
इस मंत्र के साथ दोपहर के समय क्रमशः तिल, गोमूत्र, मृत्तिका और आंवला मलकर पृथक-पृथक चार बार स्नान करें। इसके बाद शुद्ध जल से स्नान करना चाहिए।
 
6. रात्रि में कथा श्रवण, हरि संकीर्तन, भजन आदि करके जागरण करें। 
 
7. दूसरे दिन फिर पूजन कर ब्राह्मणों को भोजन कराएं। व्रत के पारण के समय व्रती को अपनी सामर्थ के अनुसार भू, गौ, तिल, स्वर्ण तथा वस्त्रादि का दान देना चाहिए।
 
लाभ : व्रत करने वाला व्यक्ति लौकिक दुःखों से मुक्त हो जाता है। भगवान नृसिंह अपने भक्त की रक्षा करते हैं। व्रती को इच्छानुसार धन-धान्य की प्राप्ति होती है।

Share this Story:

Follow Webdunia Hindi

अगला लेख

500 वर्ष पूर्व हुए अच्युतानंददास की भविष्य मालिका की 10 भविष्यवाणियां