राखी का त्योहार 2019 : श्रवण नक्षत्र और सौभाग्य योग में 13 घंटे तक है शुभ मुहूर्त

इंतजार की घड़ियां समाप्त हुई और दो महापर्वों का शुभ संयोग हमारे सामने हैं। रक्षा बंधन और स्वतंत्रता दिवस के इस मिलन अवसर पर आइए जानें कुछ खास बातें ... 
 
15 अगस्त 2019 को स्वतंत्रता दिवस के साथ भाई-बहन के प्यार का पर्व रक्षाबंधन मनाया जा रहा है। विद्वानों का मत है कि इस बार रक्षाबंधन पर भद्रा नहीं है। इसलिए पूरा दिन राखी बांधने के लिए शुभ रहेगा। 
 
कई ऐसे संयोग बनेंगे, जिससे इस पर्व का महत्व और बढ़ जाएगा। 11 अगस्त को गुरु मार्गी होकर सीधी चाल चलने लगे हैं। 
 
रक्षाबंधन पर लगभग 13 घंटे तक शुभ मुहूर्त है। जबकि दोपहर 1:43 से 4:20 तक राखी बांधने से विशेष फल मिलेगा। 
 
बहनें इस बार 15 अगस्त की सुबह 5 बजकर 49 मिनट से शाम 6 बजकर 01 मिनट तक राखी बांध सकेंगी। 
 
राखी बांधने के लिए 12 घंटे 58 मिनट का समय मिलेगा। 
 
शुभ मुहूर्त दोपहर में साढ़े 3 घंटे रहेगा। इस बार 19 साल बाद रक्षाबंधन और स्वतंत्रता दिवस एक साथ मनाया जाएगा। चंद्र प्रधान श्रवण नक्षत्र का संयोग बहुत ख़ास रहेगा। सुबह से ही सिद्धि योग बनेगा जिसके चलते पर्व की महत्ता और अधिक बढ़ेगी। इसी दिन योगी अरविंद जयंती, मदर टेरेसा जयंती और संस्कृत दिवस भी मनाया जाएगा। 
 
इस बार रक्षाबंधन भद्रा मुक्त रहेगी। भद्रा के समय कोई भी शुभ कार्य करना वर्जित माना गया है। इसलिए भद्रा काल में राखी नहीं बांधी जाती। लेकिन, इस बार बहनें सूर्य अस्त होने तक किसी भी समय राखी बांध सकती हैं। 
 
रक्षा बंधन के 4 दिन पहले ही गुरु मार्गी होकर सीधी चाल चलने लगे हैं। श्रवण नक्षत्र, सौभाग्य योग, बव करण के साथ सूर्य कर्क राशि में और चंद्रमा मकर राशि में हैं। ये सभी शुभ संयोग मिलकर इस बार रक्षाबंधन को खास बना रहे हैं।

ALSO READ: रक्षा बंधन 2019 के शुभ मुहूर्त यहां मिलेंगे आपको, शोभन, सिद्धि और सौभाग्य योग में मनेगा पर्व

वेबदुनिया पर पढ़ें

अगला लेख श्री चंद्रशेखरेंद्र सरस्वती स्वामिगल