Webdunia - Bharat's app for daily news and videos

Install App

Select Your Language

Notifications

webdunia
webdunia
webdunia
webdunia
Advertiesment

उत्तराखंड में 24 घंटे में 3 नाबालिग समेत 7 युवकों की डूबने से मौत, डूबते को बचाने में पुलिस अधिकारी की गई जान

हमें फॉलो करें webdunia

एन. पांडेय

शनिवार, 19 मार्च 2022 (23:27 IST)
देहरादून। उत्तराखंड में पिछले 24 घंटे में 3 नाबालिग सहित 7 युवकों की डूबने से मौत हो गई। शनिवार की सायं हल्द्वानी के गौला बैराज में डूब रहे व्यक्ति को बचाते हुए युवा चौकी इंचार्ज स्वयं अपनी जान से हाथ धो बैठे। होली के दिन इस दर्दनाक हादसे से पुलिस महकमे के साथ इलाके में भी माहौल गमगीन हो गया है।

शनिवार की सायं 4.45 पर चौकी इंचार्ज अमरपाल सिंह बैराज पर अनावश्यक घूम रहे लोगों को मौके से हटा रहे थे। इसी बीच, बागेश्वर निवासी दीपक कोरंगा नामक व्यक्ति बैराज में डूबने लगा। मौके पर मौजूद सिपाही प्रताप गड़िया व चौकी इंचार्ज अमरपाल बैराज में कूद गए और 25 साल के दीपक कोरंगा को बचा लिया। लेकिन अमरपाल सिंह बैराज के भंवर में फंस गए।

बैराज से निकालने के बाद अमरपाल को एक निजी हॉस्पिटल लेकर गए। चेकअप के बाद डॉक्टरों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया। मृतक अमरपाल सिंह काशीपुर के रहने वाले थे। युवकों के डूबने के बाद उनके घर में सन्नाटा पसरा हुआ है। टनकपुर और बनबसा में होली के दिन अलग-अलग जगह डूबने से चार लोगों की मौत हो गई।

तीन किशोर बनबसा और एक यूपी का रहने वाला था।पुलिस ने चारों शव पोस्टमार्टम के बाद परिजनों को सौंप दिए हैं। चार में से तीन की मौत नदी में तो एक की नहर में डूबने से हुई। बनबसा के भजनपुरा निवासी 16 वर्षीय वियोम चंद सोराड़ी पुत्र त्रिलोक चंद सोराड़ी और 17 वर्षीय रितेह बटोला पुत्र महेंद्र बटोला शुक्रवार को हुड्डी नदी की ओर नहाने के लिए निकले।

नहाते वक्त रितेह गहरे पानी में चला गया। जिसे बचाने के लिए वियोम भी कूद गया और पानी की गहराई में फंस गया। दोनों की चीख-पुकार सुनकर पास खड़े एक ग्रामीण ने अन्य लोगों को घटना की जानकारी दी। ग्रामीणों के मौके पर पहुंचने से पहले ही दोनों डूब चुके थे।

ग्रामीणों ने दोनों को पानी से बाहर निकाला। सूचना पर घटनास्थल पहुंची पुलिस दोनों को टनकपुर सरकारी अस्पताल लाई जहां चिकित्सकों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया। वहीं बनबसा निवासी 16 वर्षीय अनुज कुमार पुत्र ललित कुमार शारदा बैराज नहर में नहाते वक्त डूब गया।

जिसका शव शनिवार को बरामद हुआ। इधर, पूर्णागिरि मेले के पहले दिन माता के दर्शन के बाद बूम में स्नान कर रहे यूपी के शाहजहांपुर निवासी आशु श्रीवास्तव (26) पुत्र राजेश श्रीवास्तव गहरे पानी में डूब गया। उसे सरकारी अस्पताल टनकपुर लाया गया जहां चिकित्सकों ने मृत घोषित कर दिया। सीओ अविनाश वर्मा ने बताया कि चारों के शव पोस्टमार्टम के बाद परिजनों के सुपुर्द कर दिए गए हैं।

पौड़ी जिले के श्रीनगर एचएनबी गढ़वाल केन्द्रीय विवि के दो दो छात्रों की नहाते समय नदी में डूबने से मौत हो गई। एक छात्र का शव शुक्रवार और दूसरे का शव शनिवार को नदी से निकाला गया। मिली जानकारी के मुताबिक गढ़वाल विवि में पढ़ने वाले तीन छात्र शुक्रवार को होली खेलने के बाद चौरास पुल के पास नदी में नहाने गए तो दो छात्र नहाते हुए फिसल गए।

दोनों नदी की गहराई वाली जगह पर डूब गए। कीर्तिनगर पुलिस को सूचना मिलने पर पुलिस और एसडीआरएफ की टीम मौके पर पहुंची तो एक छात्र का शव निकाल लिया गया, जबकि दूसरे छात्र का कोई पता नहीं चल पाया। दूसरे का शव शनिवार को नदी से निकाला गया।

दोनों छात्र राजस्थान के रहने वाले थे और गढ़वाल विवि के चौरास परिसर में बीएससी के छात्र थे। गढ़वाल विवि के दो छात्रों के साथ यह दुर्घटना होने के बाद गढ़वाल विवि में छात्र और शिक्षक शोक में हैं। कोतवाल कीर्तिनगर चन्द्रभान सिंह ने बताया कि शुक्रवार को गढ़वाल विवि के चौरास परिसर में पढ़ने वाले हरिओम पुत्र ओमप्रकाश निवासी जनूंतर जिला भरतपुर राजस्थान और अंकित पुत्र बिंजाराम निवासी झारसर चूरु राजस्थान होली पर श्रीकोट समेत कई स्थानों पर घूमे।

बाद में चौरास पुल के समीप नदी में नहाने चले गए। नदी में नहाते हुए दोनों के पैर फिसलने के कारण नदी में डूब गए। नदी उक्त स्थान पर ज्यादा गहरी है। एसडीआरएफ की टीम द्वारा काफी खोजबीन करने के बाद अंकित का शव निकाला गया। जबकि दूसरे छात्र की शुक्रवार शाम तक खोजबीन लगातार जारी रही। उसका शव शनिवार को नदी से निकाला गया।

उन्होंने बताया कि छात्र हरिओम बीएससी उद्यानिकी तृतीय वर्ष तथा अंकित बीएससी वानिकी प्रथम वर्ष का छात्र था। दोनों छात्र चौरास में किराए के मकान पर रहते थे। दोनों छात्रों के साथ उनका एक साथी अभिषेक शर्मा पुत्र सत्य प्रकाश शर्मा निवासी ग्राम आसपुरा थाना अजीतगढ़ ज़िला सीकरा राजस्थान भी गया था, वह सुरक्षित है।

रुद्रपुर के थाना ट्रांजिट कैंप में होली के दिन तालाब में नहाने गए युवक की डूबने से मौत हो गई। पुलिस ने शव पोस्टमार्टम के बाद परिजनों के सुपुर्द कर दिया। हादसे से परिजनों में कोहराम मचा हुआ है। मूलरूप से बांदा शाहजहांपुर (यूपी) निवासी अंकित सिंह (26) वार्ड नंबर पांच जगतपुरा में रह रहा था।

वह ट्रांजिट कैंप स्थित इंटरप्राइजेस में काम करता था। शुक्रवार को वह अपने कुछ साथियों के साथ होली खेलने के लिए गंगापुर रोड गया था। बताया जा रहा है अंकित ने अपने दोस्तों से गंगापुर रोड स्थित तालाब में नहाने के लिए कहा। इस दौरान कुछ दोस्तों ने नहाने से इनकार कर दिया और वहां से चले गए। अंकित के साथ एक-दो दोस्त वहीं खड़े हो गए। जबकि अंकित नहाने के लिए तालाब में उतर गया।

इसी बीच अचानक अंकित तालाब में डूबने लगा। यह देखकर दोस्तों ने शोर मचाया। शोर सुनकर स्थानीय लोग घटनास्थल की ओर दौड़ पड़े। उन्होंने अंकित को तालाब से बाहर निकाला। उसे बेसुध हालत में जिला अस्पताल ले जाया गया। जहां डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया। युवक की मौत की खबर मिलते ही परिजनों में कोहराम मच गया। सूचना पर ट्रांजिट कैंप थाना प्रभारी विनोद फर्त्याल मौके पर पहुंचे और शव को पोस्टमार्टम के लिए भेजा।

Share this Story:

Follow Webdunia Hindi

अगला लेख

महाराष्ट्र में 2 सालों बाद बड़ा कोरोना अपडेट, शनिवार को सामने आए 100 से भी कम केस और सिर्फ 1 डेथ